स्वागतम्
13 नवंबर 2019 दैनिक समसामयिकी (Daily Current Affairs)
कृपया पोस्ट शेयर करें...

13 नवंबर 2019 दैनिक समसामयिकी (Daily Current Affairs) – 13 नवंबर 2019 से सम्बन्धित राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय राजनैतिक, आर्थिक, खेल आदि से सम्बन्धित महत्वपूर्ण घटनाक्रम, प्रसिद्ध व्यक्तियों के निधन से जुड़े समाचार तथा दैनिक समसामयिकी टेस्ट –

श्रीलंका ने मैच फिंसिंग को अपराध घोषित किया –

श्रीलंका मैच फिक्सिंग को अपराध घोषित करने वाला पहला दक्षिण इशियाई देश बन गया है। श्रीलंका की संसद ने खेल संबंधी अपराधों को रोकने के लिए एक बिल को मंजूरी प्रदान कर दी है। मैच फिक्सिंग के साथ ही यह अन्य खेलों से जुड़े अपराधों पर भी लागू होगा। यह बिल श्रीलंका के खेल मंत्री हरिन फर्नांडो द्वारा संसद में पेश किया गया।

अब कर्नाटक क अयोग्य विधायक भी लड़ सकेंगे चुनाव –

उच्चतम न्यायालय ने कर्नाटक के अयोग्य विधायकों पर बड़ा फैसला देते हुए कहा कि वे आने वाले विधानसभा उपचुनाव में उम्मीदवार के रूप में  हिस्सा ले सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के 15 अयोग्य विधायकों की याचिका पर अक्टूबर 2019 में सुनवाई की थी। इसके बाद ये विधायक कर्नाटक विधानसभा की 15 सीटों पर दिसंबर 2019 में होने वाले  उपचुनाव में भाग ले पायेंगे।

विश्व के सबसे बड़े आर्ट म्यूजियम के बोर्ड की सदस्य –

भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी को अमेरिका के मेट्रोपोलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट के बोर्ड में चुना गया है। इस बोर्ड में शामिल होने वाली वे प्रथम भारतीय हैं। इस म्यूजियम में विश्व की 5000 साल पुरानी तक कलाकृतियां मौजूद हैं।

इसे भी पढ़ें...  21 अक्टूबर 2019 दैनिक समसामयिकी (Daily Current Affairs)

भारत में अमेजन का प्रोजेक्ट जीरो –

टॉप ई – कॉमर्स कंपनी अमेजन ने भारत में विभिन्न ब्रांडों के नकली उत्पादों की पहचान करने हेतु माध्यम उपलब्ध कराने के उद्देश्य से अपना प्रोजेक्ट जीरो शुरु किया है। इसके माध्यम से वे जाली व नकली उत्पादों को हटा सकेंगे। अमेजन भारत से पहले इसकी शुरुवात अमेरिका, ब्रिटेन,जापान, फ्रांस आदि देशों में कर चुका है।

भारत के मुख्य न्यायाधीश का कार्यालय भी होगा आऱटीआई के दायरे में –

दिल्ली हाई कोर्ट ने जनवरी 2010 में यह बताया था कि उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश का ऑफिस भी सूचना के अधिकार के अंतर्गत आता है। इसके बाद अप्रैल 2019 में उच्चतम न्यायालय ने इस पर सुनवाई करते हुए अपने फैसले को सुरक्षित रख लिया। यह फैसला सुप्रीम कोर्ट की 5 सदस्यीय संवैधानिक पीठ ने लिया।

बोलीविया के राष्ट्रपति ने ली मैक्सिको में शरण –

बोलीविया में राजनीतिक संकट के चलते वहां के राष्ट्रपति इवो मोरालेस ने मैक्सिको में शरण ली है। राष्ट्रपति चुनाव के विवादास्पद होने के बाद हुए भारी प्रदर्शन के बाद उन्हें राष्ट्रपति पद छोड़ना पड़ा। मैक्सिको सरकार का कहना है कि राष्ट्रपति की जान को खतरा होने के कारण उन्होंने मानवता के आधार पर उन्हें शरण दी है। ये साल 2006 में पहली बार बोलीविया के राष्ट्रपति बने थे।

इसे भी पढ़ें...  4 अक्टूबर 2019 दैनिक समसामयिकी (Daily Current Affairs)

सुगम ज्ञान YouTube Channel को SUBSCRIBE करें

हमारी टीम को प्रोत्साहित करने और नए-नए ज्ञानवर्द्धक वीडियो देखने के लिए सुगम ज्ञान YouTube Channel को SUBSCRIBE जरूर करें। सुगम ज्ञान टीम को सुझाव देने के लिए हमसे WhatsApp और Telegram पर जुड़ें। ऑनलाइन टेस्ट लेनें के लिए सुगम ऑनलाइन टेस्ट पर क्लिक करें, धन्यवाद।

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 74 बार, 1 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...
Close Menu