मौर्योत्तर काल के वंश और शासक

मौर्योत्तर काल के वंश और शासक - अंतिम मौर्य शासक बृहद्रथ की हत्या उसके सेनापति पुष्यमित्र शुंग ने 185 BC के करीब सेना का निरीक्षण करते वक्त कर दी और एक…

Continue Reading

गुप्त वंश की जानकारी

गुप्प्तत वंश की जानकारी - कुषाणों के पतन के पश्चात् उत्तर भारत में बहुत से राजवंशों का उदय हुआ जिनमे सबसे शक्तिशाली व सुदृढ़ राजवंश था गुप्त वंश। प्रराम्भिक गुप्त संभवतः…

Continue Reading

मौर्य वंश और मौर्य साम्राज्य

मौर्य वंश और मौर्य साम्राज्य - चन्द्रगुप्त मौर्य (322 - 298 BC) नन्द वंश के अंतिम शासक धनानंद को पराजित कर चन्द्रगुप्त मौर्य ने 25 वर्ष की आयु में मौर्य वंश की…

Continue Reading

आधुनिक भारत का इतिहास महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

आधुनिक भारत का इतिहास महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर - यहाँ पर आधुनिक भारत का इतिहास से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न-उत्तर दिए गए हैं।जिन्हें आसानी से कम समय में दोहराया जा सकता है।  1857…

Continue Reading

मध्यकालीन भारतीय इतिहास से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

मध्यकालीन भारतीय इतिहास से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर - मध्यकालीन भारतीय इतिहास से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न-उत्तर यहाँ दिए गये हैं। जिन्हें आसानी से क्विक रीवाइज किया जा सकता है।  दिल्ली के…

Continue Reading

प्राचीन भारत का इतिहास – महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

प्राचीन भारत का इतिहास : महत्वपूर्ण प्रश्न-उत्तर भारत के प्राचीन इतिहास के प्रश्न-उत्तर नीचे दिए गए हैं - किसने मेगस्थनीज के विवरणों को पूर्णतः असत्य व अविश्वसनीय बताया - स्ट्रैबो …

Continue Reading

सोलह संस्कार एक परिचय

सोलह संस्कार एक परिचय - संस्कार का शाब्दिक अर्थ होता है शुद्ध या पवित्र करना अर्थात हिन्दू धर्म में संस्कारों का विधान दूषित मानव शरीर व मस्तिष्क को पवित्र व परिष्कृत…

Continue Reading

सिन्धु घाटी सभ्यता / हड़प्पा सभ्यता तथा उससे सम्बंधित तथ्य

सिन्धु घाटी सभ्यता / हड़प्पा सभ्यता और उससे सम्बन्धित तथ्य - सिन्धु घाटी सभ्यता विश्व की प्राचीनतम नदी घाटी सभ्यताओं में से एक है | इस सभ्यता का विकास सिन्धु…

Continue Reading

1857 ई. के पूर्व के विभिन्न विद्रोह और आन्दोलन

विभिन्न विद्रोह और आन्दोलन जोकि सन् 1857 ई. की क्रान्ति से पहले हुए, के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से चर्चा की गई है | भारतीय इतिहास में 1857…

Continue Reading

सल्तनतकालीन ऐतिहासिक साहित्य एवं अन्य ग्रन्थ

सल्तनतकालीन साहित्य की उन्नति के लिए सल्तनतकालीन सुल्तानों ने विशेष कदम उठाये थे | उनके द्वारा विद्वानों के लिए गोष्ठियों का आयोजन किया जाता था | जिससे विद्वानों के बीच…

Continue Reading
Close Menu
Inline
Inline