कृपया पोस्ट शेयर करें...

राष्ट्रमण्डल खेल ( Commonwealth Games ) – 

ब्रिटिश साम्राज्य के गुलाम रहे देशों में आजाद हो जाने के बाद भी एक सौहार्द और एकता कायम रखने हेतु राष्ट्रमण्डल खेलों की शुरुआत सन 1930 में कनाडा के हैमिल्टन से हुयी और इसके आयोजन की जिम्मेदारी कनाडाई मूल के एथलीट बॉबी रॉबिंसन को दी गयी। राष्ट्रमंडल खेलो का आइडिया एश्ले कूपर ने ब्रिटिश सरकार को दिया था। इसका मुख्यालय लंदन में स्थित है। ये प्रतियोगिता हर 4 साल बाद राष्ट्रमण्डल में शामिल विभिन्न देशों में होती आ रही है। परन्तु ब्रिटिश के कभी गुलाम रहे सभी देशों पर कोई बाध्यता नहीं थी कि वे इस समूह के सदस्य रहेंगे ही, इसीलिए मिश्र, बर्मा, इराक और अमेरिका इस समूह के सदस्य नहीं हैं।

इन खेलों का पूर्व/प्रारंभिक नाम “ब्रिटिश एम्पायर” था। शुरुवात में इन खेलों में सिर्फ 11 देशों ने भाग लिया और उस समय मात्र 6 खेलों की 59 प्रतिस्पर्धाएं हई थीं और 400 खिलाडियों ने भाग लिया था। उसके बाद से यह आंकड़ा बढ़ता ही गया और आगे भी बढ़ता ही जायेगा। वर्तमान में इसमें 71 देश भाग ले रहे हैं और अब 19 खेल इसमें शामिल कर लिए गए हैं जिनकी लगभग 275 प्रतिस्पर्धायें होती हैं और लगभग 6000 खिलाड़ी इसमें भाग लेते हैं। द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान ये खेल आयोजित नहीं हुए। द्वितीय विश्व युद्ध समाप्त होने के बाद 1950 ईo में इनका पुनः आयोजन ऑकलैंड (न्यूजीलैंड) में किया गया।

डेविड डिक्सन पुरस्कार –

राष्ट्रमण्डल खेल में सर्वश्रेष्ठ खिलाडी को दिए जाने वाले इस पुरस्कार की स्थापना सन 2002 में मैनचेस्टर (इंग्लैंड) में हुए राष्ट्रमण्डल खेलों के दौरान की गयी। यह पुरस्कार 2002 में सर्वप्रथम दक्षिण अफ्रीका की दिव्यांग ( विकलांग ) तैराक नताली डु टोइट को दिया गया। भारत के सरमेश जंग को यह पुरस्कार 2006 के मलबर्न राष्ट्रमंडल में प्राप्त हुआ।

  • डेविड डिक्सन 17 वर्षों तक राष्ट्रमण्डल खेल के महासंघ (CGF) के मानद सचिव रहे।
इसे भी पढ़ें...  खेलकूद / खेल जगत प्रश्नोत्तरी

राष्ट्रमण्डल खेल के बारे में तथ्यात्मक जानकारी –

  • राष्ट्रमंडल खेल का टीवी पर पहली बार प्रसारण 1954 में हुए 5वें राष्ट्रमण्डल खेल (कनाडा) के दौरान हुआ।
  • 1994 में खेलने के बाद हांगकांग राष्ट्रमण्डल खेल से बहार हो गया।
  • 1998 ईo में पहली बार इन खेलो का आयोजन एशिया महाद्वीप पर कुआलालपुरम (मलेशिया) में हुआ।
  • नाइजीरिया की चीका अमलाहा डोपिंग टेस्ट में पकड़ी जाने वाली पहली स्वर्ण विजेता महिला भारोत्तोलक हैं।

राष्ट्रमण्डल खेल और भारत –

  • भारत का पहला पदक (कांस्य) 1934 में कुश्ती में रशीद अनवर ने हासिल किया।
  • 1958 कार्डिल (वेल्स) में हुए राष्ट्रमण्डल खेल में मिल्खा सिंह ने 400 मीटर की दौड़ में स्वर्ण पदक हासिल किया और लीला राम ने 100 किलो ग्राम वर्ग की कुश्ती में स्वर्ण पदक हासिल किया।
  • 1966 प्रवीण कुमार ने हैमर थ्रो में रजत पदक जीता।
  • 1970 में भारत ने 5 स्वर्ण सहित कुल 12 पदक जीते।
  • 1974 में भारत ने 4 स्वर्ण पदक (चारो कुश्ती में) के साथ कुल 15 पदक जीते।
  • 1978 ईo कनाडा में हुए राष्ट्रमण्डल खेल में भारत ने 5 स्वर्ण पदक के साथ कुल 15 पदक हासिल किये।
  • 1982 ईo में ब्रिस्बेन(आस्ट्रेलिया) में हुए राष्ट्रमण्डल खेल में भारत ने 5 स्वर्ण के साथ 16 पदक हासिल किये।
  • 1986 ईo में एडिनब्रा (स्कॉटलैंड) में हुए राष्ट्रमण्डल खेल के 13 वें संस्करण में भारत ने हिस्सा नहीं लिया।
  • 1998 के खेलो में भारत ने 7 स्वर्ण के साथ कुल 25 पदक जीते।
  • 2002 (इंग्लैंड) के राष्ट्रमण्डल खेल में भारत  30 स्वर्ण के साथ कुल 69 पदक जीतकर चौथे स्थान पर रहा।
  • 2006 के आस्ट्रेलिया के मेलबर्न में हुए राष्ट्रमण्डल खेल में भारत ने 22 स्वर्ण के साथ कुल 49 पदक हासिल किये।
  • 2010 में पहली बार 19 वें राष्ट्रमण्डल खेलों की मेजबानी करने का मौका भारत को प्राप्त हुआ और इनका आयोजन नई दिल्ली में किया गया। भारत ने इन खेलों में शानदार प्रदर्शन किया और 38 स्वर्ण पदकों के साथ पहली बार पदकों का शतक पूरा किया और दूसरा स्थान प्राप्त किया। कृष्णा पूनिया ने डिस्क थ्रो में स्वर्ण पदक हासिल किया।
  • 2014 में भारत को 15 स्वर्ण के साथ कुल 64 पदक हासिल हुए।
  • 2018 में हुए राष्ट्रमंडल खेल में भारत ने 26 स्वर्ण पदक के साथ कुल 66 पदक हासिल किये।
इसे भी पढ़ें...  ओलम्पिक खेल सामान्य ज्ञान (Olympic Games General Knowledge)

इस प्रकार भारत अब तक राष्ट्रमंडल खेल में कुल 504 पदक ( 181 स्वर्ण, 175 रजत, 148 कांस्य ) हासिल कर चुका है।

अब तक हुए राष्ट्रमंडल खेलों के आयोजन स्थल व वर्ष –

वर्षआयोजन स्थलदेशप्रतियोगिताएं
1930हेमिल्टनकनाडा06
1934लंदनब्रिटेन07
1938सिडनीआस्ट्रेलिया07
1950ऑकलैंडन्यूजीलैंड10
1954बैंकूवरकनाडा09
1958कार्डिफब्रिटेन09
1962पर्थऑस्ट्रेलिया09
1966किंग्सटनजमैका09
1974क्राइस्टचर्चन्यूजीलैंड09
1978एडमंटन कनाडा10
1982ब्रिसबेनऑस्ट्रेलिया10
1986एडिनबरास्काटलैंड10
1990ऑकलैंडन्यूजीलैंड10
1994विक्टोरियाकनाडा10
1998क्वालालम्पुरमलेशिया16
2002मैनचेस्टरइंग्लैंड17
2006मेलबर्नआस्ट्रेलिया16
2010नई दिल्लीभारत17
2014ग्लासगोस्काटलैंड17
2018गोल्डकोस्टआस्ट्रेलिया18

Recommended Books

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण पुस्तकें आप यहाँ से खरीद सकते हैं और लोकप्रिय उपन्यासों को यहाँ से खरीदें। धन्यवाद !

सुगम ज्ञान टीम का निवेदन

प्रिय पाठको,
आप सभी को सुगम ज्ञान टीम का प्रयास पसंद आ रहा है। अपने Comments के माध्यम से आप सभी ने इसकी पुष्टि भी की है। इससे हमें बहुत ख़ुशी महसूस हो रही है। हमें आपकी सहायता की आवश्यकता है। हमारा सुगम ज्ञान नाम से YouTube Channel भी है। आप हमारे चैनल पर समसामयिकी (Current Affairs) एवं अन्य विषयों पर वीडियो देख सकते हैं। हमारा आपसे निवेदन है कि आप हमारे चैनल को SUBSCRIBE कर लें। और कृपया, नीचे दिए वीडियो को पूरा अंत तक देखें और लाइक करते हुए शेयर कर दीजिये। आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

सुगम ज्ञान से जुड़े रहने के लिए

Add to Home Screen

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 863 बार, 1 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...