स्वागतम्
मुहावरे और उनके अर्थ
कृपया पोस्ट शेयर करें...

मुहावरे और उनके अर्थ – किसी विशेष अर्थ को प्रकट करने वाले वाक्यांश को मुहावरा कहते हैं। शाब्दिक रूप से मुहावरा शब्द का अर्थ अभ्यास होता है। मुहावरों का प्रयोग भाषा को सुन्दर, प्रभावशाली तथा संक्षिप्त व सरल बनाने के लिए जाता है। इस लेख में प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण मुहावरों को हिंदी वर्णमाला के क्रम में दिया गया है।

प्रमुख मुहावरे और उनके अर्थ

  • अंक भरना – स्नेह से लिपटा लेना 
  • अंग टूटना – थकान से दर्द होना
  • अंगार बनना – लाल होना या क्रुद्ध होना
  • अंगारों पर पैर रखना – जानबूझकर हानिकारक काम करना
  • अंगारों पर लोटना – दुःख सहना
  • अंगूठा दिखाना – वक्त पर घोखा देना
  • अंचरा पसारना – याचना करना या माँगना
  • अण्टी मारना – चाल चलना
  • अण्ड-वण्ड कहना – भला बुरा कहना
  • अंधाधुंध लुटाना – बिना विचारे खर्च करना
  • अँधा बनना – आगे पीछे कुछ न देखना
  • अँधा बनाना – धोखा देना
  • अँधा होना – विवेक भ्रष्ट हो जाना
  • अंधे की लकड़ी – एक ही सहारा होना
  • अंधेर खाता – अन्याय
  • अंधेरनगरी – ऐसी जगह जहाँ धांधली का बोलबाला हो
  • अक्ल पर पत्थर पड़ना – बुद्धि भ्रष्ट होना
  • अक्ल की दुम – अपने को बड़ा होशियार समझने वाला
  • अगले ज़माने का आदमी – सीधा सादा या ईमानदार
  • अड़ियल टट्टू – अटक अटक कर या मुँह जोहकर काम करने वाला
  • अढ़ाई दिन की हुकूमत – कुछ दिनों की शानोशौकत
  • अन्न जल उठना – रहने का संयोग न होना या मर जाना
  • अन्न लगना – स्वस्थ्य रहना
  • अपना उल्लू सीधा करना – अपना काम निकालना
  • अपना किया पाना – कर्म  भोगना
  • अपना सा मुँह लेकर रह जाना – शर्मिंदा होना
  • अपनी खिचड़ी अलग पकाना – अलग रहना या स्वार्थी होना
  • अपने पाँव आप कुल्हाड़ी मारना – संकट मोल लेना
  • अपने पैरों खड़ा होना – स्वावलम्बी होना
  • अपने मुँह मिया मिट्ठू होना – अपनी तारीफ खुद करना
  • अब-तब करना – बहाना करना
  • अब-तब होना – परेशां करना या मरने के करीब होना
  • आँच न आने देना – जरा भी कष्ट न होने देना
  • आठ-आठ आँसू रोना – बुरी तरह पछताना
  • आसान डोलना – विचलित या लुब्ध होना
  • आस्तीन का साँप – कपटी मित्र
  • आसमान टूट पड़ना – बहुत बड़ा संकट पड़ना
  • आँखें खुलना – होश आना या सावधान होना
  • आँखें चार होना – आमने सामने होना
  • आँखें मूंदना – मर जाना
  • आँखों में खून उतरना – अधिक क्रोध करना
  • आँखों में गड़ना –  की उत्कष्ट लालसा
  • आँखें फेर लेना – उदासीन होना
  • आँख मारना – इशारा करना
  • आँखों में धूल झोकना – धोखा देना
  • आँखें बिछाना – प्रेम से स्वागत करना
  • आँखों का काँटा होना – शत्रु होना
  • ईंट का जबाब पत्थर से देना – किसी की दुष्टता का करारा जबाब देना
  • ईद का चाँद होना – बहुत दिनों बाद दिखाई देना
  • उगल देना – गुप्त बात प्रकट कर देना
  • उठा न रखना – कसर न छोड़ना
  • उलटी गंगा बहाना – प्रतिकूल कार्य
  • उड़ती चिड़िया पहचानना – मन की या रहस्य की बात ताड़ना
  • उन्नीस बीस होना – मामूली फर्क
  • एक आँख से देखना – बराबर मानना
  • एक लाठी से सबको हाँकना – बिना उचित अनुचित का विचार किये व्यव्हार करना
  • कल पड़ना – तसल्ली मिल जाना
  • किरकिरा होना – विघ्न आना
  • किस मर्ज की दवा – किस काम के
  • कोसों दूर भागना – बहुत अलग रहना
  • कलेजे पर सांप लोटना – कुढ़ना
  • कलेजा ठंडा होना – संतोष होना
  • कागजी घोड़े दौड़ाना – केवल लिखा पढ़ी करना
  • कुत्ते की मौत मरना – बुरी तरह मरना
  • किताबी कीड़ा होना – पढ़ने के सिवाय कुछ न करना
  • कलम तोड़ना – बढ़िया लिखना
  • काँटा निकलना – बढ़ा दूर होना
  • कागज काला करना – बिना मतलब के कुछ लिखना
  • किस खेत की मूली – शक्तिहीन या अधिकारहीन होना
  • कुँआ खोदना – हानि पहुँचाने के यत्न करना
  • खरी-खोटी सुनाना – भला बुरा कहना
  • खरी-खरी सुनाना – कटु सत्य कहना
  • खेत आना या खेत रहना – वीरगति को प्राप्त होना
  • खून पसीना एक करना – कठिन परिश्रम करना
  • खटाई में पड़ना – रुक जाना या झमेले में पड़ना
  • खाक छानना – भटकना
  • खेल खेलना – परेशान करना
  • गाल बजाना – डींग हाँकना
  • गिन गिनकर पैर रखना – सुस्त  हद से ज्यादा सावधानी वरतना
  • गुस्सा पीना – क्रोध को दबा लेना
  • गला छूटना – पिण्ड छूटना
  • गूलर का फूल होना – लापता होना
  • गड़े मुर्दे उखाड़ना – दबी हुयी बात को फिर से उठाना
  • गाँठ का पूरा – मालदार
  • गाँठ में बाँधना – खूब याद रखना या अच्छे से याद रखना
  • गुदड़ी का लाल – गरीब के घर गुणवान उत्पन्न होना
  • घोड़े बेचकर सोना – बेफिक्र होना
  • घड़ों पानी पड़ जाना – अत्यंत लज्जित होना
  • घी के दीप जलाना – अप्रत्याशित लाभ पर प्रसन्नता
  • घर बसाना – विवाह करना
  • घर का न घाट का – कहीं का न होना
  • घात लगाना – मौका ताकना
  • चल बसना – मर जाना
  • चार दिन की चाँदनी – थोड़े दिन का सुख
  • चींटी के पर निकलना या जमना – विनाश के लक्षण प्रकट होना
  • चूं न करना – सह जाना या जबाब न देना
  • चण्डूखाने की गप – बहकी/बेतुकी बातें करना
  • चादर से बाहर पाँव पसारना – आय से अधिक खर्च करना
  • चाँद पर थूकना – सम्माननीय का अनादर या व्यर्थ निंदा करना
  • चिराग तले अँधेरा – पंडित के घर घोर मूर्खता का आचरण
  • चूड़ियां पहनना – स्त्री की तरह असमर्थता व्यक्त करना
  • चेहरे पे हवाइयां उड़ना – डर जाना
  • छप्पर फाड़कर देना – बिना परिश्रम के संपन्न हो जाना
  • छक्के छूटना – बुरी तरह पराजित होना
  • जल भुनकर पागल हो जाना – क्रोध से पागल होना
  • जहर उगलना – अपमानजनक बातें कहना
  • जीती मक्खी निगलना – जानबूझकर अशोभन या अभद्र कार्य करना
  • जूते चाटना – चापलूसी करना
  • जमीन पर पैर न रखना – अधिक घमंडी होना
  • जान पर खेलना – साहसिक कार्य
  • टका सा मुँह लेकर रहना – शर्मिंदा होना
  • टट्टी की ओट शिकार खेलना – छिपे तौर पर किसी के विरुद्ध कुछ करना
  • टाट उलटना – दिवाला निकलना
  • तूती बोलना – प्रभाव जमाना
  • तोते की तरह आँखें फेरना – बेमुरव्वत होना
  • तीन तरह होना – तितर बितर होना
  • टिल का ताड़ करना – बातों को तूल देना
  • दौड़ धूप करना – बड़ी कोशिश करना
  • दो कौड़ी का आदमी – तुच्छ या अविश्वसनीय आदमी
  • दिन दूना रात चौगुनी – खूब उन्नति करना
  • दो टूक बात कहना – स्पष्ट कह देना
  • दो दिन का मेहमान – जल्द मरने वाला
  • दूध के दांत न टूटना – अनुभवहीन या अज्ञानी होना
  • धज्जियाँ उड़ाना – किसी के दोषों को चुन चुन कर गिनना
  • निन्यानबे का फेर – धन जोड़ने का बुरा लालच
  • नौ दो ग्यारह होना – चम्पत होना या भाग जाना
  • न इधर का न उधर का – कहीं का नहीं
  • नाच नचाना – तंग करना
  • पेट में चूहे कूदना – बहुत जोरो की भूख लगना
  • पट्टी पढ़ाना – बुरी राय देना
  • पहाड़ टूट पड़ना – घोर विपत्ति आ पड़ना
  • पौ बारह होना – खूब लाभ होना
  • पांचों उँगलियाँ घी में – पुरे लाभ में
  • पगड़ी रखना – इज्जत बचाना
  • फूलना-फलना – कुलवान या धनवान होना
  • बरस पड़ना – किसी पर गुस्सा निकलना
  • बाँसों उछलना – बहुत ख़ुशी
  • बाजी मारना – जीतना या आगे निकल जाना
  • बट्टा लगाना – कलंक लगाना
  • बाजार गर्म होना – काम में तेजी
  • बाँछे खिलना – अत्यधिक प्रसन्न होना
  • भाड़े का टट्टू – पैसे का गुलाम
  • भीगी बिल्ली बनना – दबना याडर से दुबकना
  • मक्खियाँ मारना – बेकार बैठे रहना
  • मैदान मारना – लड़ाई जीतना
  • मोटा असामी – मालदार
  • मुट्ठी गर्म करना – घूस देना
  • रंग जमाना – धाक जमाना
  • रंग लाना – प्रभाव उत्पन्न करना
  • रंग बदलना – परिवर्तित होना
  • रास्ता देखना – इंतजार करना
  • रोंगटे खड़े होना – चकित या भयभीत होना
  • लकीर का फ़कीर होना – पुरानी प्रथाओं पर ही चलना
  • लोहा मानना – श्रेष्ठ समझना
  • लेने के देने पड़ना – लाभ के बदले हानि होना
  • श्रीगणेश करना – शुभारम्भ करना
  • सफ़ेद झूठ – सरासर झूठ
  • सार्ड हो जाना – डरना या मरना
  • सांप-छछूंदर की हालत होना – दुविधा में पड़ना
  • सिक्का जमाना – प्रभाव जमना
  • सवा सोलह आने सही – पूरी तरह सही होना
  • हाथ मलना – पछताना
  • हवा हो जाना – भाग जाना
  • हवा का रुख देखना – समय की गति पहचान कर काम करना
  • हुक्का पानी बंद करना – बिरादरी से निकाल देना
  • हथेली पर सरसों जमाना – जल्दबाजी करना
  • हाथ धो बैठना – गवा देना हाथ पीले करना
  • हाथ पैर मारना – काफी प्रयत्न करना
  • हाथ के तोते उड़ना – स्तब्ध होना
  • हथियार डाल देना – हार मान लेना

मुहावरों की विस्तृत लिस्ट –

मुहावरे अर्थ
अक्ल पर पत्थर पड़ना बुद्धि भ्रष्ट हो जाना
अंक भरना स्नेह से लिपटा लेना
अंग टूटना थकान से दर्द होना
अपने मुंह मिया मिट्ठू बनना अपनी तारीफ स्वयं करना
अपने पैरों पर खड़ा होना स्वावलम्बी होना
अक्ल का दुश्मन मुर्ख व्यक्ति
अपना उल्लू सीधा करना अपना काम निकालना
अंगारों पर लेटना दुःख सहना
अँगूठा दिखाना वक्त पर धोखा देना
अँचरा पसारना माँगना या याचना करना
अंटी मारना अपनी चाल चलना
अण्ड बण्ड कहना भला बुरा कहना
अँधा धुंध लुटाना बिना बिचारे खूब खर्च करना
अँधा बनना आगे पीछे कुछ न देखना
अँधा बनाना धोखा देना
अँधा होना विवेकहीन हो जाना
अंधे के लकड़ी एकमात्र सहारा
अंधेरखाता अन्याय
अंधेरनगरी जहाँ बस धांधली ही चलती हो
अकेला दम अकेला
अक्ल की दुम अपने को बहुत होशियार समझने वाला
अगले ज़माने का आदमी सीधा सादा आदमी
अढ़ाई दिन की हुकूमत कुछ दिन की शान शौकत
अन्न जल उठना समय पूरा हो जाना
अन्न जल कराना जलपान कराना
अन्न लगना स्वस्थ होना
अपना किया पाना किये का फल भोगना
अपना सा मुँह लेकर रह जाना शर्मिंदा होना
अपनी खिचड़ी अलग पकाना अलग रहना या स्वार्थी होना
अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारना संकट मोल लेना
अब तब करना बहाना करना
अब तब होना मरने के करीब होना, परेशान करना
अंग अंग ढीला होना अत्यधिक थक जाना
अंगारे उगलना कड़वी बातें करना
अंगारों पर लेटना ईर्ष्या से व्याकुल होना
ऊँगली उठाना किसी के चरित्र/ईमानदारी पर शक करना या प्रश्न करना
उंगली पकड़कर पहुंचा पकड़ना सहारा लेकर हावी होना
अंगूठा छाप अनपढ़ होना
अंगूर खट्टे होना किसी चीज के न मिलने पर उसमे कमी निकालना
अंजर पंजर ढीले होना बहुत थक कर शरीर शिथिल पड़ जाना
अंडे सेना घर में ही बैठे रहना
अंतड़ियों के बल खोलना दिनों बाद भरपेट खाना
अंतड़ियों में बल पड़ना पेट दर्द होना
अंतिम घड़ी आना मृत्यु के निकट होना
अँधा बनना ध्यान न देना
अंधे के हाथ बटेर लगना अयोग्य के हाथ मूलयवान वानास्तु लगना
अंधे को दो आँखें मिलना मनोरथ सिद्ध हो जाना
अंधेर मचाना अत्याचार करना
अक्ल का अँधा मूर्ख
अक्ल के पीछे लट्ठ लेकर भागना हर समय मूर्खता का कार्य करना
अक्ल घास चरने जाना समय पर बुद्धि न चलना
अक्ल ठिकाने लगाना मारना पीटना
अक्ल ठिकाने लगना भूल समझ आ जाना
अगर मगर करना टाल मटोल करना
अपना रास्ता नापना चले जाना
अपना सिक्का ज़माना प्रभुत्व जमाना
सर ओखली में देना जानकार संकट मोल लेना
अपनी खाल में मस्त रहना अपने में ही रमे रहना
अंगारों पर पैर रखना खुद को खतरे में डालना
अक्ल का अजीर्ण होना जरुरत से ज्यादा समझदार होना
अक्ल दंग होना चकित होना
अक्ल का पुतला बहुत अधिक बुद्धिमान
अंत पाना भेद जानना
अंतर के पट खोलना विवेक से काम लेना
अक्ल के घोड़े दौड़ाना कल्पना करना
अपने दिनों को रोना खुद की दुर्दशा पर शोक जताना
अला उद्दीन का चिराग होना अद्भुद वस्तु
अल्लाह को प्यारा हो जाना मर जाना
अपनी डफली खुद बजाना मन की करना
अंग अंग मुस्काना अति प्रसन्न होना
अगवा करना अपहरण करना
अति करना मर्यादा का उल्लंघन करना
अपना अपना राग अलापना किसी की न सुनना और खुद की करना
अपनी राम कहानी सुनाना अपना हाल सुनाना
अरमान निकालना इच्छा पूरी करना
अंधों में काना राजा अज्ञानियों में अल्पज्ञानी का सम्मान
अंकुश देना दबाव डालना
अंग में अंग चुराना शर्माना
अंग अंग फूले न समाना अत्यधिक खुश होना
अंगार बनना अत्यधिक क्रोध करना
अंडे का शहजादा अनुभवहीन व्यक्ति
अठखेलियां सूझना मजाक मस्ती करना
अँधेरे मुँह प्रातःकाल या सुबह तड़के
अड़ियल टट्टू रुक रुक कर काम करना
अपना घर समझना बिना संकोच व्यवहार करना
अड़चन डालना वाधा उत्पन्न करना
अरमान निकालना इच्छा पूरी करना
अरण्य चन्द्रिका निष्प्रयोजन पदार्थ
आँख भर आना आँख में आंसू आ जाना
आँखों में बसना दिल में समा जाना
आँखें खुलना समझ आ जाना
आँख का तारा बहुत प्यारा
आँखें दिखाना किसी पर गुस्सा करना
आसमान से बातें करना बहुत ऊँचा होना
आकाश छूना बहुत तरक्की करना
आकाश पाताल एक करना बहुत मेहनत करना
आकाश पाताल का अंतर होना बहुत अधिक भिन्न होना
आंच आना कष्ट होना
आते गुड़गुड़ाना बहुत भूख लगना
आंधी के आम बहुत सस्ता
आंसू पीना दुःख की घडी में शांत रहना
आकाश का फूल होना अप्राप्य वस्तु
आकाश के तारे तोड़ना असंभव कार्य करना
मुँह से आग उगलना कड़वी बातें करना
आकाश से बातें करना बहुत ऊँचा होना
आग बबूला होना अत्यधिक क्रोध करना
आग पर लेटना ईर्ष्या से जलना
आग में घी डालना गुस्से को और भड़काना
प्यास लगने पर कुआं खोदना ऐन मौके पर कार्य करना
आग लगाकर तमाशा देखना झगड़ा कराकर मजे लेना
आटे दाल का भाव पता चलना दुनियादारी का ज्ञान होना
आग से खेलना खतरनाक काम करना
आग हो जाना बहुत तेजी से फैलना
आगे पीछे न सोचना समय पर ही लाभ हानि का सोचना
आज कल करना टालना
आटे के साथ घुन पिसना दोषी के साथ निर्दोष को दंड मिलना
आड़े हाथ लेना बुरा भला कहना
आधा तीतर आधा बटेर बेमेल वस्तु
आसमान में उड़ना थोड़ा पैसा आने पर उड़ाना
आसमान पर चढ़ना बहुत अभिमान करना
आसमान पर थूकना महान व्यक्ति को भला बुरा कहना
आसमान सर पर उठाना बहुत ऊधम मचाना
सर पे आसमान टूटना मुसीबत आ जाना
आसमान से गिरे खजूर में अटके एक परेशानी से निकलकर दूसरी मुसीबत में फस जाना
आस्तीन चढ़ाना तैयार करना
आह लेना किसी की बद्दुआ लेना
आंधी के आम बिना परिश्रम के मिली वस्तु
आखिरी साँसें गिनना मृत्यु के निकट होना
आग देना डाह संस्कार में आग लगाना
आफत का मारा दुखी व्यक्ति
आफत मोल लेना व्यर्थ का झगड़ा मोल लेना
आव देखा न ताव बिना सोचे विचारे
आहुति देना प्राण न्योछावर करना
आग का पुतला क्रोधी व्यक्ति
आग पर आग डालना गुस्से या लड़ाई को और बढ़ाना
आग पर पानी डालना करना
आग और पानी का बैर सहज दुश्मनी
आग बोना झगड़ा शुरू करना
आग में कूद पड़ना खतरा मोल लेना
आन की आन में तुरंत
अगिया बैताल क्रोधी
इंद्र की परी बहुत सुन्दर स्त्री
इज्जत उतारना अपमानित करना
इज्जत मिट्टी में मिलाना सम्मान नष्ट करना
इधर की उधर करना चुगली करना
इधर उधर की हांकना गप मारना
इस कान से सुनकर उस कान से निकालना ध्यान न देना
इस हाथ देना उस हाथ लेना तुरंत फल मिलना
इंतकाल हो जाना मृत्यु हो जाना
इशारे पर नाचना वश में हो जाना
ईंट से ईंट बजाना जमकर झगड़ा होना
ईंट का जबाब पत्थर से देना जबरदस्त बदला लेना
ईद का चाँद होना बहुत दिनों बाद दिखना
ईमान बेचना बेईमानी करना
उड़ती चिड़िया को पहचानना मन या रहस्य की बात को जान लेना
उन्नीस बीस का अंतर होना बहुत थोड़ा सा फर्क होना
उल्टी गंगा बहाना लीक से हटकर काम करना
उड़ जाना खर्च हो जाना
उड़ती खबर अफवाह
उड़न-छू हो जाना गायब हो जाना
उधेड़बुन में रहना चिंतित रहना
उबाल पड़ना अचानक क्रोध करना
उल्टी माला फेरना बुराई चाहना या अनिष्ट चाहना
उल्टी सीधी जड़ना झूठी शिकायत करना
उल्टी सीधी सुनाना बुरा भला कहना
उलटे छुरे से मूढना ठगना
उल्टे पाँव लौटना जैसे जाना वैसे ही बापस आ जाना
उल्लू बनाना बेवकूफ बनाना
उगल देना भेद प्रकट करना
उल्लू बोलना वीरान स्थान होना
उल्लू का पट्ठा पूरा मूर्ख
ऊँट के गले बिल्ली बांधना बेमेल जोड़ी बनाना
ऊँट के मुँह में जीरा अधिक आवश्यकता पर थोड़ी वस्तु
ऊल जलूल बकना भला बुरा कहना
ऊसर में बीज बोना व्यर्थ कार्य करना
ऊँचा सुनना कम सुनाई देना
ऊपर की आमदनी नियमित स्त्रोत के अतिरिक्त आय
ऊपरी मन से कहना बेमन से कह देना
सबको एक आँख से देखना सबके साथ एक जैसा व्यवहार करना
एक लाठी से सबको हांकना उचित अनुचित के बिना व्यवहार
एक आँख न भाना बिलकुल अच्छा न लगना
एक और एक ग्यारह संगठन ही शक्ति है
एक तीर से दो शिकार एक साधन से दो काम कर लेना
एक से इक्कीस होना उन्नति करना
एक ही थाली के चट्टे बट्टे एक जैसे स्वभाव के
एक ही नाव में सवार एक जैसी परिस्थिति में पड़ना
एड़ियां रगड़ना नहुत दिनों से बीमार होना
एक न चलना कोई युक्ति काम न आना
ऐरा गैर नत्थू खैरा मामूली आदमी
ऐसा वैसा तुच्छ व साधारण
ऐसी की तैसी करना बुरी हालत करना
ओखली में सर देना खुद मुसीबत में पड़ना
ओर छोर न मिलना रहस्य पता न चलना
ओस के मोती क्षणभंगुर वस्तु
औंधी खोपड़ी उल्टी बुद्धि का
औंधे मुँह गिरना बुरी तरह धोखा खाना
कान देना ध्यान से सुनना
कान खोलना सावधान होना
कमर कसना तैयार होना
कलेजा मुँह को आना अत्यधिक भयभीत होना
कमर टूटना बेसहारा होना
कोसों दूर भागना बहुत अलग रहना
कुआं खोदना हानि पहुंचाना
कंठ का हार होना अत्यंत प्रिय
कंपकंपी छूटना डर के मारे कांपना
कचूमर निकालना बहुत पीटना
कच्ची गोली खेलना अनाड़ीपन दिखाना
कड़वा घूंट पीना चुपचाप अपमान सहना
कढ़ी का सा उबाल आना गुस्सा जल्द शांत हो जाना
कदम उखड़ना हार मान लेना
कदम पर कदम रखना अनुकरण करना
कफ़न को कौड़ी न होना अत्यंत गरीब होना
सर से कफ़न बांधना लड़ने-मरने की तयारी करना
कबाब में हड्डी होना सुख शांति में वाधा डालना
कब्र में पाँव लटकाना मृत्यु के करीब होना
कमर सीढ़ी करना लेटना या आराम करना
कमान से तीर छूट जाना हाथ में न रहना
कल न पड़ना चैन न पड़ना
कलई खुलना भेद प्रकट होना
कलई खोलना भांडा फोड़ना
कलेजा काँपना बहुत भयभीत होना
कलेजा ठंडा होना संतोष मिलना
कलेजा पसीजना दया आना
कलेजा फटना बहुत दुःख में होना
कलेजे का टुकड़ा अत्यंत प्रिय
कलेजे पर छुरी चलना किसी की बातें चुभना
कलेजे में आग लगना ईर्ष्या करना
कसक निकलना बदला लेना
कसाई के खूंटे से बांधना क्रूर के हाथों में देना
कहर टूटना भारी विपदा आना
कहानी समाप्त होना मर जाना
कांटे बोना अनिष्ट करना
काँटों पर लेटना बेचैन होना
कांव कांव करना शोर मचाना
कागज़ की नाव न टिकने वाली वस्तु
काजल की कोठरी बुराई का घर या कलंक का स्थल
काटो तो खून नहीं स्तब्ध रह जाना
काठ का उल्लू महामूर्ख
कान का कच्चा बिना सुने विश्वास करने वाला
कान काटना धूर्तता करना
कान खाना एक ही बात को बार बार कहना
कान गर्म दंड देना
कान पर जूं न रेंगना कही बात पर ध्यान न देना
कान भरना किसी के विरुद्ध भड़काना
कान में रुई डालकर बैठना किसी की बात न सुनना
कानाफूसी करना निंदा या चुगली करना
कानी कौड़ी न होना जेब में एक पैसा न होना
कानों कान खबर न होना किसी को पता न चलना
काफूर हो जाना गायब हो जाना
काम तमाम करना मार डालना
कायापलट होना पूरी तरह बदल जाना
काल के गाल में जाना भाग जाना
कालिख पोतना कलंकित करना
किला फतह करना बेहद कठिन काम करना
दुम हिलाना खुशामद करना
कीचड़ उछालना किसी को बदनाम करना
कुँए का मेढक एक ही जगह जिंदगी गुजार देने वाला
कुँए में कूदना खतरे में पड़ना
कुँए में बांस डालना बहुत खोजना
कुत्ता काटना पागल होना
कुत्ते की नींद बहुत सावधानी से सोना
कोढ़ में खाज होना संकट पर संकट
कसर न छोड़ना जीतोड़ प्रयास करना
कोरा जबाब देना साफ़ मना कर देना
कोल्हू का बैल अत्यधिक परिश्रमी
कौड़ियों के मोल बहुत सस्ता
कौड़ी को भी न पूछना अत्यंत तुच्छ
कौड़ी कौड़ी दांतों से पकड़ना अत्यंत कंजूस
गुस्से को पी जाना क्रोध को दबाए रखना
कंचन बरसना लाभ ही लाभ
कन्नी काटना आँख बचाकर भाग जाना
कच्चा चिट्ठा खोलना गुप्त बातें प्रकट कर देना
किस्मत का धनी होना अत्यंत भाग्यशाली
कूप मंडूक सीमित ज्ञान वाला व्यक्ति
कान पकना एक ही बात सुन सुन के परेशान हो जाना
काले पानी की सजा देश निकाला
केंचुली बदलना व्यवहार बदलना
कोठे पर बैठना वैश्यावृत्ति करना
क्या से क्या हो जाना स्थिति बदल जाना
काला अक्षर भैंस बराबर अनपढ़ या मूर्ख
काँटों में घसीटना संकट में डालना
किनारा करना अलग होना
कपास ओटना सांसारिक धंधे में पड़ना
कटे पर नमक छिड़कना संकट के समय और दुखी करना
ख़ाक छानना भटकना
खून पसीना एक करना अत्यधिक परिश्रम करना
खरी खोटी सुनाना भला बुरा कहना
खून खौलना अत्यधिक गुस्सा करना
खून का प्यासा जानी दुश्मन
खेत आना वीरगति प्राप्त करना
खटाई में पड़ना झमेले में पड़ना
खेल खेलना परेशान करना
खटाई में डालना किसी काम को लटकाना
खबर लेना सजा देना
खाई से निकलकर खंदक में कूदना एक मुसीबत से निकलकर दूसरी में पड़ना
ख़ाक फांकना मारा मारा फिरना
ख़ाक में मिलना सब कुछ नष्ट हो जाना
खाना न पचना परेशान/बेचैन होना
खा पी डालना खर्च कर धन समाप्त कर देना
खाने को दौड़ना बहुत क्रोध में होना
खार खाना ईर्ष्या करना
खिचड़ी पकाना षणयंत्र करना या गुप्त बात करना
गाजर मूली की तरह काटना अंधाधुंध मार-काट मचाना
खुदा खुदा करके बहुत मुश्किल से
खुशामदी टट्टू बहुत खुशामद करने वाला
खूँटा गाड़ना रहने का स्थान निर्धारित करना
खून के आंसू रुलाना बेहद परेशान करना
खून के आंसू रोना बहुत दुखी होना
खून खच्चर होना अत्यधिक मारपीट में लहूलुहान होना
खून सवार होना बहुत क्रोधित होना
खून पीना शोषण करना
ख़याली पुलाव पकाना असंभव बातें करना
खून ठंडा होना उत्साहरहित हो जाना
खेल बिगड़ना काम बिगड़ जाना
खेल बिगाड़ना काम बिगाड़ना
खोटा सिक्का अयोग्य पुत्र
खोपड़ी खाना/चाटना बहुत बकवास करके परेशान करना
खोपड़ी गंजी करना बहुत पीटना
खुलकर कहना स्पष्ट कहना
खोज खबर लेना समाचार मिलना
खोद खोदकर पूछना अनेकानेक प्रश्न पूछना
खून सूखना या खून सफ़ेद हो जाना अधिक डर जाना
ख़म खाना दबना या नष्ट होना
खटिया सेयना बीमार होना
खूंटे के बल कूदना दूसरे के बल पे जोश दिखाना
गले का हार होना बहुत प्यारा
गर्दन पर सवार होना पीछा न छोड़ना
गड़े मुर्दे उखाड़ना पुराणी दबी हुयी बातें निकालना
गिरगिट की तरह रंग बदलना स्वभाव बदल जाना
गाल बजाना डींग हांकना
गिन गिन कर पैर रखना सावधानी वरतना या बहुत धीरे चलना
गुस्सा पीना क्रोध को दबा जाना
गूलर का फूल होना कभी न दिखना
गुदड़ी के लाल होना गरीब के घर गुणवान का होना
गाँठ में बांधना खूब याद रखना
गुड़ गोबर करना बनाया काम बिगाड़ना
गुरु घंटाल दुष्टों का सरदार
गंगा नहाना कर्तव्यमुक्त हो जाना
गच्चा खाना धोखा खाना
गजब ढाना कमाल करना
गज भर की छाती होना अत्यधित साहसी होना
गढ़ जीतना मुश्किल कार्य करना
गधा बनाना चूतिया बनाना
गधे को बाप बनाना काम निकालने के लिए किसी की भी सेवा करना
गर्दन फंसना विपदा में फंस जाना
गरम होना गुस्सा करना
गला काटना ठग लेना
गला पकड़ना दोषी ठहराना
गला फंसाना समस्या में पड़ जाना
गला फाड़ना बहुत तेज चिल्लाना
गले पड़ना फालतू में पल्ले पड़ जाना
गले पर छुरी चलाना बहुत हानि पहुँचाना
गले न उतरना समझ न आना
आँख का अंध, गाँठ का पूरा मुर्ख किन्तु धनी
गाढ़ी कमाई मेहनत से कमाया धन
गाढ़े दिन समस्या की घड़ी
गाल फुला के बैठना नाराज होना
गुजर जाना मृत्यु हो जाना
गुलछर्रे उड़ाना अय्याशी करना
गूंगे का गुड़ वर्णन से परे
गोता मारना गायब हो जाना
गोली मारना किसी वस्तु को ठुकरा देना
गौ का यार स्वार्थी मित्र
गोद भरना संतान की प्राप्ति होना
गोद लेना किसी दूसरे की संतान को अपना लेना
गोद सूनी होना संतान का न होना
गोबर गणेश बेवकूफ व्यक्ति
गोलमाल करना कुछ गड़बड़ करना
काल के गाल में जाना मर जाना
गंगा लाभ होना मृत्यु हो जाना
गीदड़भभकी मन में डर परन्तु चेहरे पर दिखावटी क्रोध
गुड़ियों का खेल बहुत आसान काम
गोटी लाल होना फायदा होना
गड्ढा खोदना दूसरों को हानि पहुँचाना
गूलर का कीड़ा सीमित जगह पर ही घूमना
घर का न घाट का कहीं का न रहना
घोड़े बेचकर सोना बिलकुल बेफिक्र होना
घड़ो पानी पड़ जाना बहुत लज्जित होना
घी के दीप जलाना लाभ पर प्रशंसा व्यक्त करना
घर बसाना शादी कर लेना
घात लगाना वक्त का इंतजार करना
घाट घाट का पानी पीना हर तरह का अनुभव होना
घर का उजाला इकलौता बेटा
घर काटने को दौड़ता सूना घर
घर का चिराग बुझना पुत्र की मृत्य हो जाना
घर का बोझ उठाना घर खर्च चलाना
घर का नाम डुबोना प्रतिष्ठा भंग करना
घर में आग लगाना आपस में झगड़ा कराना
घर में भुंजी भांग न होना अत्यंत निर्धन होना
घाव पे मरहम लगाना किसी को सांत्वना देना
घाव हरा करना भूला दुःख याद करना
घास न डालना बात तक न करना
घी दूध की नदियां बहाना अत्यंत समृद्ध होना
घुटने टेंक देना हार मान लेना
घोड़े पर सवार होना लौटने की जल्दी मचाना
घोलकर पी जाना अच्छे से रट लेना
घर उजाड़ना घर को बर्बाद करना
घिग्घी बंध जाना डर के कारण आवाज तक न निकलने की स्थिति
घर का मर्द बाहर कायरता दिखाने वाला
घर का आदमी बहुत करीबी रिश्तेदार
चल बसना मृत्यु को प्राप्त होना
चार चाँद लगाना शोभा बढ़ा देना
चिकना घड़ा होना अत्यंत बेशर्म व्यक्ति
चिराग तले अँधेरा विद्वान् के घर मूर्ख
चैन की वंशी बजाना मजे से रहना
चार दिन की चाँदनी थोड़े दिन की ख़ुशी
चींटी के पर जमना विनाश के लक्षण
चूं न करना जबाब में एक शब्द भी न बोलना
चादर से बाहर पैर पसारना हैसियत से अधिक खर्च करना
चाँद पर थूकना सम्मानित पर कीचङ उछालना
चूड़ियां पहनना स्त्री के समान बताना
चेहरे की हवाइयां उड़ना बहुत डर जाना
चाँदी काटना बहुत मुनाफा कमाना
चम्पत हो जाना भाग जाना
चकमे में आना किसी के धोखे में आ जाना
चकमा देना किसी को धोखा देना
चना चबैना जैसा तैसा खाना
चपत पड़ना हानि होना
चमक उठना प्रगति करना
चमड़ी उधेड़ना बुरी तरह पीटना
चरणों की धूल बहुत ही तुच्छ
चस्का लगना किसी चीज की लत लग जाना
चाँद का टुकड़ा अत्यंत सुन्दर
चांदी ही चांदी होना बहुत पैसा कमाना
चांदी का जूता रिश्वत
चादर देखकर पाँव पसारना आय देख कर व्यय करना
चार सौ बीस बेईमान आदमी
चार सौ बीसी करना बेईमानी करना
चिड़िया उड़ जाना चले जाना
चिड़ियाँ फ़साना धोका देकर वश में करना
चिराग लेकर ढूंढना खूब कोशिश से ढूंढ़ना
चिल्ल पों मचाना बहुत शोर मचाना
चीं बोलना हार मानना
चुटकी लेना मजाक उड़ाना
चुटिया हाथ में लेना अपने नियंत्रण में लेना
चुल्लू भर पानी में डूब मरना अत्यधिक लज्जित होना
चूना लगाना किसी को ठगना
सांप नेवले का बैर स्वाभाविक दुश्मनी
चेहरे का रंग उड़ना निराशा में बैठना
चेहरा तमतमाना गुस्सा चेहरे पे छलकना
चोली दामन का साथ अत्यंत घनिष्ठ एकता
चोला छोड़ना मृत्यु हो जाना, शरीर त्याग देना
चट कर जाना पूरा खा जाना
चप्पा चप्पा छान डालना पूरी तरह से खोज लेना
चर्बी चढ़ना मद में अँधा होना
चहल पहल होना खूब रौनक होना
चाकरी करना किसी की दिन रात सेवा करना
चुगली लगाना किसी की पीठ पीछे निंदा करना
चुटकी बजाते बजाते बहुत जल्दी
चूं चूं का मुरब्बा बेमेल वस्तुओं का योग
चूर चूर कर देना ख़त्म कर देना
चूल्हा जलाना खाना पकाना
चौखट पर माथा टेकना अनुनय विनय करना
चल निकलना कारोबार का अच्छे से शुरू जाना
चिकने घड़े पर पानी पड़ना प्रभावहीन रहना
चुनौती देना लड़ने की लिए बुलाना
चंडूखाने की गप झूठी गप्पें
छक्के छूटना हार जाना
छप्पर फाड़ कर देना अप्रत्याशित लाभ या
बिना परिश्रम के धन की प्राप्ति
छाती पर सवार होना आ कर बैठ जाना
छाती पर मूंग दलना पास रहकर कष्ट देना
छाती पर सांप लोटना ईर्ष्या से दिल जलना
छठी का दूध याद आना बहुत बड़ी मुसीबत में पड़ना
छठे छमासे कभी कभार ही
छत्तीस का आंकङा गहरी दुश्मनी
छाती पीटना रोना, मातम करना
छाती जलना ईर्ष्या करना
छाती दहलना बहुत डर जाना
छाती दोगुनी होना बहुत उत्साहित होना
छाती फूलना गर्व करना
छाती सुलगना ईर्ष्या करना
छिपा रुस्तम अनजान गुणवान व्यक्ति
छुट्टी पाना मुक्त होना
छूमंतर हो जाना गायब हो जाना या भाग जाना
छोटा मुँह बड़ी बातऔकात से अधिक बोलना
छी छी करना घृणा दिखाना
छेड़छाड़ करना किसी को परेशान करना
जलती आग में घी डालना क्रोध को और बढ़ाना
जमीन आसमान एक करना कोई कसर न छोड़ना
जान पर खेलना साहस भरा काम करना
जूती चाटना किसी की चापलूसी करना
जड़ से उखाड़ देना पूरी तरह समाप्त कर देना
जहर उगलना बहुत कड़वी बातें करना
जान खाना बहुत परेशान करना
जख्मों पर नमक छिड़कना किसी के दुःख को जानबूझकर बढ़ाना
जख्म हरा हो जाना पुराना दुःख जाना
जुबान चलना गलत शब्दों को बोलना
जुबान बंद करना अनुत्तरित हो जाना
जुबान पर ताला लग जाना पूरी तरह शांत हो जाना
जमाना देखना बहुत अनुभवी होना
जमीन पर पाँव न पड़ना बहुत खुश होना
जमीन में समा जाना अत्यंत लज्जित होना
जल भुनकर राख होना ईर्ष्या से कुंठित होना
जल में रहकर मगरमच्छ से बैर साथ रहने वालो से दुश्मनी,
काम पड़ने वालों से दुश्मनी करना
जली कटी सुनाना भला बुरा कहना
जहन्नुम में जाना बद्दुआ देना
भाड़ में जाना बद्दुआ देना
जहर का घूंट पीना सब देखकर भी शांत रहना
जहर की गाँठ दुष्ट प्रवृत्ति वाला व्यक्ति
जादू चढ़ना किसी का प्रभाव पड़ना
जान हथेली पर रखना जान की परवाह किये बिना कोई काम करना
जाल फेंकना किसी को फ़साने की कोशिश करना
जाल में फंसना षणयंत्र में फंस जाना
जी खट्टा होना वैराग्य उत्पन्न हो जाना
जी छोटा करना हतोत्साहित करना
जी हल्का होना चिंता मिट जाना
जी खोलकर पुरे मन से
जी जलना संताप का अनुभव करना
जी जान से पूरी मेहनत से
जी तोड़ पूरी शक्ति से
जी भर के जितना मन करे
जीते जी मर जाना अत्यधिक कष्ट भोगना
जी चुराना काम से भागना
जीती मक्खी निगलना जानबूझकर घृणित कार्य करना
जूतियां चटकाना बेकार में घूमना
जेब गर्म करना रिश्वत देना
जोड़ तोड़ करना उपाय निकालना
जौहर दिखाना वीरता दिखाना
जान का प्यासा होना मार डालने के लिए तत्पर
जान के लाले पड़ना प्राण बचाना मुश्किल पड़ जाना
जान में जान आना भय दूर होना
दिन काटना जैसे तैसे समय गुजारना
जुट जाना किसी काम में लग जाना
जुल्म ढाना अत्याचार करना
जूते के बराबर न समझना अत्यधिक तुच्छ समझना
जैसे तैसे करके बहुत मुश्किल से
जी चलना वश चलना
जोश ठंडा पड़ना उत्साह कम हो जाना
जंगल में मंगल करना सुनी जगह को आनंदमय कर देना
जुबान को लगाम न देना बिना सोचे समझे बोलना
जमीन चूमना धराशायी हो जाना
जी लगना मन लगना
झक मारना खाली बैठना
झंडे गाड़ना प्रभुत्व में लेना
झंडी दिखाना स्वीकृति देना
झांसा देना धोखा देना
झांसे में आना किसी के बहकाबे में आ जाना
झाड़ू फेरना सब चुरा ले जाना
झूठ का पुतला बहुत झूठा व्यक्ति
झूठ के पुल बांधना झूठ पे झूठ बोलना
झाड़ू फिरनासब बर्बाद हो जाना
झोली भरना खूब मिलना
टांग अड़ाना किसी के कार्य में वाधा डालना
टका सा जबाब देना साफ़ मना कर देना
टस से मस न होना जरा भी न हिलना
टोपी उछालना निरादर करना
टके के तीन बहुत सस्ता
टके को भी न पूंछना कोई महत्त्व न देना
टके सेर मिलना बहुत सस्ता मिलना
टर टर करना फालतू की बकबास करना
टाँग खींचना किसी के बने हुए काम को बिगाड़ना
टाँग तोड़ना सजा देने की धमकी देना
टुकड़ों पर पलना दूसरे की कमाई पर दिन काटना
टें बोलना मर जाना
टेढ़ी खीर अत्यंत कठिन कार्य
टपक पड़ना अचानक आ जाना
टालमटोल करना बहाना बनाना
टीस उठना दर्द उठना
टुकुर टुकुर देखना लगातार देखना
टोह लेना पता लगाना
टट्टी की आड़ में शिकार करना छिपकर बुरा काम करना
टाट उलटना व्यापारी का खुद को दीवालिया बता देना
ठन ठन गोपाल खाली जेब
ठंडा पड़ जाना मृत्यु हो जाना
ठठरी हो जाना दुर्बल होकर सूख जाना
ठिकाने लगा देना जान से मार देना
ठेंगा दिखाना मना कर देना
ठेंगे पर मारना परवाह न करना
ठोकरें खाना दुःख सहना
ठोढ़ी पकड़ना खुशामद करना
ठट्टा मारना मजाक करना
ठन जाना लड़ाई शुरू हो जाना
ठहाका मारना जोर से हँसना
ठाट बात से रहना शान शौकत से जीना
ठिकाने की बात कहना काम की बात बताना
ठीकरा फोड़ना दोष लगाना
ठेस पहुंचना चोट लगना
ठोंक बजाकर देखना अच्छे से जांच परख लेना
डकार जाना हड़प जाना
डींग हांकना दूसरों के सामने शेखी बघारना
डेढ़ चावल की खिचड़ी पकाना सबसे भिन्न कार्य करना
डोरी ढीली करना नियंत्रण कम करना
डंका पीटना सबको बताना
डंके की चोट पे खुल्लमखुल्ला
डंका बजाना प्रभाव जमाना
डंडी मारना तराजू से कम तोलना
डकार तक न लेना माल हड़प के पता न चलने देना
डुबकी मारना गायब हो जाना
डूबती नैया को पार लगाना मुसीबत से पीछा छुड़ाना
डेरा डालना बस जाना
डेरा उठाना चल देना
डोरे डालना प्रेम जाल में फंसाना
डूबते को तिनके का सहारा विपत्ति में थोड़ी सी मदद
ढील देना छूट देना
ढेर हो जाना मर जाना
ढोल पीटना सबको बताना
ढपोलशंख होना सिर्फ बड़ी बड़ी बातें करना
ढर्रे पर आना सुधर जाना
ढलती फिरती छाया भाग्य का खेल
ढाई ईंट की मस्जिद सबसे भिन्न काम करना
ढाई दिन की बादशाहत कुछ समय की शान शौकत
ढोल की पोल खोखलापन
ढल जाना बूढ़ा हो जाना
ढोंग रचना पाखण्ड करना
तूती बोलना बोलबाला होना
तारे गिनना चिंता में नींद न आना
तिल का ताड़ बनाना छोटी बात को बढ़ा चढ़ा के रखना
तीन तरह करना तितर बितर करना
तकदीर चमकना भाग्य अनुकूल हो जाना
तख्ता पलटना सत्ता परिवर्तन होना
तलवे धोकर पीना बेहद सत्कार करना
तलवार की धार पर चलना बेहद मुश्किल कार्य करना
सर पर तलवार लटकना खतरा होना
उल्टा तवा बहुत काला
तशरीफ़ लाना पधारना
टाक पर रखना नहीं मानना
ताक में बैठना मौका देखना
तारीफ के पुल बांधना बहुत तारीफ करना
तीन पांच करना आपत्ति करना
तीर मार लेना बहुत बड़ा काम कर लेना
तीसमारखाँ बनना बहुत बहादुरी दिखाना
तेल निकालना बहुत काम करवाना
कोल्हू का बैल हर समय काम में लगे रहना
तोता पालना कोई बुरी आदत पाल लेना
तंग हाल गरीब होना
तकदीर फूटना किस्मत ख़राब होना
तबीयत आना किसी की ओर आकर्षित हो जाना
तबीयत भर जाना किसी से इच्छा भर जाना
तरस खाना दया दिखाना
तह तक पहुंचना पूरी बात जानना
तहलका मचाना खलबली मचा देना
तांता बंधना लगातार लोगों का आते जाना
तांक झाँक करना इधर उधर देखना
ताल ठोंकना लड़ने के लिए ललकारना
ताव आना उत्साह से भर जाना
तिल तिल कर मरना धीरे धीरे मरना
तिल रखने की जगह न होना पूरी तरह भरा हुआ
तिलमिला उठना बहुत गुस्से में भर आना
तिलांजलि देना त्याग देना
तुक न होना बिना तर्क की बात करना
तुल जाना जिद करना
तू तू मै मै आपसी कहा सुनी
तूल पकड़ना उग्र रूप धारण कर लेना
तैश में आना क्रोध में आ जाना
तौबा करना न करने की कसम खाना
त्योरी चढ़ना क्रोध से माथे पर बल पड़ना
ताड़ जाना पहचान जाना या समझ जाना
ताना मारना व्यंग वचन बोलना
तोते की तरह आँखे फेरना भुला ही देना
त्राहि त्राहि करना विपत्ति में शरण या रक्षा के लिए पुकारना
त्रिशंकु बिना निर्णय की स्थिति
न इधर का न उधर का
थूक कर चाटना बात से मुकर जाना
थाली का बैंगन होना सिद्धांत विहीन व्यक्ति
थू थू होना बदनामी होना
दिन दूनी रात चौगुनी बहुत तरक्की करना
दाल में काला होना संदेह होना
दौड़ धूप करना बहुत कोशिश करना
दो कौड़ी का आदमी बहुत तुच्छया अविश्वसनीय व्यक्ति
दो टूक बात कहना कम शब्दों में स्पष्ट बोलना
दो दिन का मेहमान जल्द मरने वाला
दूध के दांत न टूटना अनुभवहीन
दूध का दूध पानी का पानी पूर्ण इन्साफ
दूज का चाँद होना कभी कभार दिखना
दो नावों पर पैर रखना एक साथ दो काम करना
दरवाजे की मिट्टी खोद डालना बार बार तकाजा करना
दरार पड़ना आपस में न बनना
दसो उँगलियाँ घी में खूब लाभ होना
दांत पीसना बहुत गुस्सा करना
दांत खट्टे करना हरा देना
दांतो तले ऊँगली दबा लेना दंग रह जाना
दाई से पेट छिपाना जानने वाले से भेद छिपाना
दाद देना तारीफ करना
दाना पानी उठना आजीविका का साधन खत्म होना
दिन में तारे दिखना समस्या में विचलित हो जाना
दिन गंवाना समय नष्ट करना
दिन पूरे होना अंतिम समय आना
दिन पलटना अच्छे दिन आना
दिन रात एक करना अत्यधिक मेहनत करना
दिन आना अच्छा समय आना
दिमाग दौड़ना बहुत सोंचना
दिमाग सातवें आसमान पर होना बहुत घमंड होना
दिमाग खाना बकवास करना
दिल टूट जाना निराशा हाथ लगना
दिल पर पत्थर रखना दुःख सहकर भी चुप रहना
दिल पसीजना दया दिखाना
दिल का काला धूर्त व कपटी व्यक्ति
दिल बाग़ बाग़ होना बहुत ख़ुशी होना
दिल का गुबार निकालना मन का मलाल निकालना
दिल की दिल में रह जाना इच्छा पूरी न हो पाना
दिल के अरमान निकलना इच्छा पूरी करना
दिल्ली दूर होना मंजिल दूर होना
दुनिया की हवा लगना गलत मार्ग पर चलना
दूध का धुला होना बहुत सीधा व निर्दोष
दूध का सा उबाल आना अचानक गुस्सा करना
दूध की नदियां बहाना धन दौलत से पूर्ण होना
दूध की मक्खी की तरह निकाल फेंकना काम निकलने के बाद अलग कर देना
दो दो हाथ करना लड़ना
दोनों हाथों में लड्डू दोनों तरफ से लाभ
दोनों हाथों से लुटाना बहुत खर्च करना
दूर के ढोल सुहावने होना दूर से हर वास्तु अच्छी लगती है
दबे पाँव आना बिना आवाज किये आना
दर दर की ख़ाक छानना मारे मारे फिरना
दांत निपोरना गिड़गिड़ाना
दाने दाने को तरसना भूखे मरना
दामन छुड़ाना पीछा छुड़ाना
दामक पकड़ना शरण में जाना
दाल गलना युक्ति सफल होना
दाल रोटी चलना जीवन निर्वाह करना
बांसों उछलना अत्यधिक प्रसन्न होना
दिल्लगी करना मजाक करना
दूकान बढ़ाना दूकान बंद करना
दीवारों के कान होना गुप्त बात को मुँह से न बोलना
दुखती रग को छूना दुःख के कारण पर आघात करना
दुम दबाकर भाग जाना डरकर भाग जाना
दुश्मनी मोल लेना बेवजह दुश्मन बनाना
दूध की लाज रखना नैतिकता वाले कार्य करना
दूध पीता बच्चा अबोध बालक
देखने रह जाना देखकर दंग रह जाना
देह भरना मोटा होना
द्वार लगाना दरवाजा बंद करना
दर दर भटकना मारे मारे घूमना
दाहिना हाथ प्रमुख सहायक
दुनिया की खबर न होना सांसारिकता से दूर होना
दीदे का पानी मर जाना बेशर्म होना
दाएं बाएं देखकर सावधान होना
दरिया दिल होना उदार होना
धूप में बाल पकाना अनुभवहीन होना
धोबी का कुत्ता न घर का न घाट का कोई ठिकाना न होना
धतूरा खाए फिरना मदमस्त रहना
धब्बा लगना कलंकित होना
धमाचौकड़ी मचाना उपद्रव करना
धूल फाँकना मारा मारा घूमना
धाक ज़माना रौब या दबदबा कायम करना
धीरज बंधाना सांत्वना देना
धुन का पक्का लग्न से काम करने वाला
घुन सवार होना किसी काम को करने के पीछे पड़ जाना
धूनी रमाना अधिक समय तक रुक जाना
ध्यान में न लाना विचार न करना
ध्यान से उतरना भूल जाना
धता बताना काम को टालना
धरना देना अड़ के बैठ जाना
धोती ढीली हो जाना भयभीत हो जाना
धरती पर पाँव न रखना घमंडी होना
नौ दो ग्यारह होना भाग जाना
न इधर का न उधर कहीं का नहीं
नाक में दम करना खूब परेशान करना
निन्यानब्बे के फेर में पड़ना धन कमाने में व्यस्त रहना
न घर का रहा न घाट का दोनों तरफ से उपेक्षित
नमक हलाल करना एहसान चुकाना
नमक का हक अदा करना बदला चुकाना
नमक मिर्च लगाना बढ़ा चढ़ाकर कहना
नमक हराम होना एहसान/उपकार न मानने वाला
नस नस पहचानना भली भांति जानना
नकेल डालना नियंत्रण करना
नाक रगणना अत्यधिक अनुनय विनय करना
नाक का बाल होना पहुत प्रिय
नाक रखना इज्जत रखना
नाक कटना इज्जत उतर जाना
नाम उछालना बदनामी करना
नाम डुबोना सम्मान खोना
नैया पार लगाना सफल होना
नंगा कर देना असलियत प्रकट कर देना
नंगा नाच करना सरेआम निकृष्ट काम करना
नंबर दो का पैसा अवैध रूप से कमाया गया धन
न लेना न देना कोई संबंध न रखना
नखरे उठाना हर बात मानना
नजरअंदाज करना उपेक्षा करना
नजर डालना देखना
नजरबन्द करना कैद में रखना
नजर बचाकर बिना किसी को दिखे
नब्ज छूटना मृत्यु को प्राप्त हो जाना
नसीब फूटना नसीब का प्रतिकूल हो जाना
नाक के नीच बहुत पास
नानी मर जाना बहुत परेशानी में होना
नाम कमाना विख्यात होना
न्योछावर करना बलिदान देना
नींद हराम करना चिंता में सो न पाना
नींव डालना शुभ काम की शुरुवात करना
नीचा दिखाना अपमानित करना
नोंक झोंक करना कहा सुनी होना
नौबत आना किसी चीज का समय आ जाना
नाच नचाना तंग करना
नसीब चमकना अच्छे दिन आना
नेकी और पूछ पूछ अच्छे काम के लिए पूछने की जरूरत नहीं होती
पेट काटना भरपेट भोजन तक न करना
पेट में चूहे कूदना बहुत भूख लगना
पहाड़ टूट पड़ना भारी विपत्ति आना
पट्टी पढ़ाना गलत राय देना
पौं बारह होना अत्यधिक लाभ होना
पाँचों उँगलियाँ घी में होना पूरी तरह से लाभ होना
पगड़ी रखना इज्जत बचा लेना
पगड़ी उतारना बेज्जत करना
पानी पानी होना अत्यधिक लज्जित होना
परछाईं से भी डरना अत्यधिक भयभीत होना
पर्दाफाश करना भेद खोल देना
पल्ला झाड़ना किसी बात से पीछा छुड़ा लेना
पाँव फूलना भयभीत होना
पानी का बुलबुला शीघ्र मिटने वाला
पानी फेरना बर्बाद कर देना
पारा चढ़ना गुस्सा करना
पेट का गहरा राज छुपा लेना वाला
पेट का हल्का जिसके पेट में कोई बात न रूकती हो, चुगलखोर
पत्थर का कजेला कठोर ह्रदय वाला
पत्थर दिल जिसका ह्रदय आसानी से न पिघले
पत्थर की लकीर दृढ निश्चित
पलकों पर बिठाना बहुत आदर-सम्मान से रखना
पकलें बिछाना सत्कार के लिए इन्तजार करना
खाल उधेड़ना भयंकर सजा देना
पीठ ठोंकना शाबाशी देना
जान हथेली पर रखना प्राण संकट में डालना
रास्ता देखना प्रतीक्षा करना
पत्ता खड़कना आशंका होना
पल्ला छुड़ाना किसी से पीछा छुड़ाना
खून पसीने की कमाई मेहनत से कमाया धन
पाँव पड़ना प्रार्थना करना
पासा पलटना पृष्ठि का प्रतिकूल होना
पापड़ बेलना कठिनाई झेलना
पाप का घड़ा भरना पाप की प्रतिष्ठा
पार लगाना उद्धार करना
पाला पड़ना वास्ता पड़ना
पिंड छुड़ाना किसी से पीछा छुड़ाना
पिल पड़ना किसी काम में जुट जाना
जान छुड़ाना पीछा छुड़ाना
पीठ दिखाना समय आने पे भाग जाना
पुर्जा ढीला होना थोड़ा पागल होना
पूर न पड़ना कम पड़ जाना
पेट पर लात मारना रोजी रोटी छीनना
पेट पीठ एक होना अत्यंत कमजोर होना
पेट में दाढ़ी होना अत्यंत चालाक होना
पेट में बात न पचना कोई बात न छुपा पाना
पेट में बल पड़ना अत्यधिक हँसाना
पैर उखड़ना भाग जाना
पैर न टिकना हर दम चलते रहना
पोल खोलना रहस्य प्रकट करना
पैसा डूबना किसी काम में हानि होना
प्राण हरना मार डालना
पानी देना सींचना
पानी न मांगना तुरंत मर जाना
पानी पीकर जाति पूछना काम करने के बाद उसका औचित्य पूछना
पानी में आग लगाना नामुंकिन कार्य करना
पैर पकड़ना माफ़ी माँगना
इसे भी पढ़ें...  उपसर्ग की परिभाषा और प्रकार

WhatsApp पर सुगम ज्ञान से जुड़ें

सुगम ज्ञान टीम को सुझाव देने के लिए हमारे लिए WhatsApp करेें और ऑनलाइन टेस्ट लेनें के लिए सुगम ऑनलाइन टेस्ट पर क्लिक करें, धन्यवाद।

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 832 बार, 14 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...
Close Menu
Inline
Inline