कृपया पोस्ट शेयर करें...

विश्व के प्रमुख देशों की संसदों / व्यवस्थापिका के नाम (Parliament Names of Countries) – किसी भी देश की व्यवस्था के संचालन के लिए तीन तत्व – कार्यपालिका, न्यायपालिका और व्यवस्थापिका अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। व्यवस्थापिका का प्रमुख कार्य होता है कानून बनाना। यहाँ पर द्विसदनीय व्यवस्थापिका का चलन है। परन्तु विश्व के बहुत से देशों में एक सदनीय व्यवस्थापिका का भी प्रचलन है। भारत में व्यवस्थापिका को संसद के नाम से जाना जाता है। इसी तरह विश्व के अन्य देशों में व्यवस्थापिका को पृथक पृथक नामों से जाना जाता है।

विश्व के प्रमुख देशों की संसदों / व्यवस्थापिका के नाम (Parliament Names of Countries)

देश व्यवस्थापिका/संसद
भारत संसद
पाकिस्तान नेशनल असेम्बली
अमेरिका कांग्रेस
नेपाल राष्ट्रीय पंचायत
अफ़रानिस्तान शोरा
बांग्लादेश जातीय संसद
इजराइल नेसेट
जर्मनी बुंडस्टेग
ईरान मजलिस
रूस ड्यूमा
स्पेन कोर्टेस
मंगोलिया खुरल
पोलैंड सेजम
ब्रिटेन पार्लियामेंट
डेनमार्क फोल्केटिंग
स्वीडेन रिक्सडॉग
नॉर्वे स्टॉर्टिंग

सुगम ज्ञान YouTube Channel को SUBSCRIBE करें

हमारी टीम को प्रोत्साहित करने और नए-नए ज्ञानवर्द्धक वीडियो देखने के लिए सुगम ज्ञान YouTube Channel को SUBSCRIBE जरूर करें। सुगम ज्ञान टीम को सुझाव देने के लिए हमसे Telegram पर जुड़ें। ऑनलाइन टेस्ट लेनें के लिए  सुगम ऑनलाइन टेस्ट पर क्लिक करें, धन्यवाद।

सुगम ज्ञान से जुड़े रहने के लिए –

इसे भी पढ़ें...  भारत का निर्वाचन आयोग या चुनाव आयोग

Add to Home Screen

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 835 बार, 1 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...