स्वागतम्
ओलम्पिक खेल सामान्य ज्ञान (Olympic Games General Knowledge)
कृपया पोस्ट शेयर करें...

ओलम्पिक खेल सामान्य ज्ञान (Olympic Games General Knowledge) – ओलम्पिक खेलों की शुरुवात यूनान के देवता ज्यूस के सम्मान में 776 ईसा पूर्व यूनान/ग्रीक के ओलम्पिया शहर से की गई थी। पहले इन खेलों का आयोजन प्रत्येक चार साल बाद किया जाता था। परंतु साल 394 ई. में रोम के राजा थियोडोटियस के आदेश पर इन खेलों के आयोजन को बंद कर दिया गया।

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति –

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति की स्थापना साल 1894 में सखोन नामक स्थान पर की गई। इसका मुख्यालय स्विजरलैंड के लोसाने में अवस्थित है। यह समिति ही विश्व भर में ओलंपिक खेलों के आयोजन की आधिकारिक संस्था है। इस समिति का एक अध्यक्ष, तीन उपाध्यक्ष और सात अन्य सदस्य होते हैं। इस समिति की पहली भारतीय महिला सदस्य नीता अंबानी बनीं। काउंसिल ने 04 अगस्त 2016 को समिति के 129 में सत्र के दौरान नीता अंबानी को सदस्य बनाया। वे 70 वर्ष की आयु तक इस समिति से जुड़ी रहेंगी।

आधुनिक ओलम्पिक खेल –

फ्रांस के बैरोन पियरे डि कोबार्टिन के प्रयासों से 1894 ई0 में आधुनिक ओलंपिक खेलों का आयोजन यूनान के एथेंस शहर से शुरु किया गया। इनका आयोजन भी हर चार साल बाद किया जाता है।

भारतीय ओलंपिक परिषद –

भारतीय ओलंपिक परिषद की स्थापना साल 1924 में की गई थी। इसका पहला अध्यक्ष जमशेद जी टाटा को बनाया गया था।

ओलंपिक खेलों का उद्देश्य –

लैटिन भाषा में सिटियस, अल्टियस और, फोर्टियस ये तीन ही ओलंपिक के उद्देश्य हैं। इनकी रचना 1897 ईस्वी मे फादर डिडोन द्वारा की गई थी। इनका अर्थ है तेज, ऊंचा और बलवान। इन्हें ओलंपिक के उद्देश्य के रूप में साल 1920 के एंटवर्प ओलंपिक में प्रस्तुत किया गया था।

इसे भी पढ़ें...  राष्ट्रमण्डल खेल

ओलंपिक का उद्घाटन समारोह –

ओलंपिक खेलों के उद्घाटन समारोह के मार्च पास्ट में यूनान की टीम सबसे आगे और मेजबान देश की टीम सबसे पीछे रहती है। अन्य सभी टीमें अंग्रेजी वर्णमाला के वर्णों के क्रमानुसार होती हैं।

ओलम्पिक मशाल –

इन खेलों के आयोजन की शुरुवात ओलंपिक मशाल जलाकर की जाती है। इसे जलाने की शुरुवात 1928 के एम्सटर्डम ओलंपिक से की गई थी। इसके बाद साल 1936 के बर्लिन ओलंपिक से ओलंपिक मशाल के आधुनिक स्वरूप को अपनाया गया। यहीं से ओलंपिक मशाल को आयोजन स्थल तक लाने के प्रचलन की शुरुवात हुई। दरअसल यह मशाल यूनान में ओलम्पिया के हेरा मंदिर के सामने सूर्य की किरणों से जलाई जाती है और विभिन्न खिलाड़ियों द्वारा आयोजन स्थल तक लायी जाती है।

ओलम्पिक मशाल

ओलम्पिक ध्वज –

वर्ष 1913 में बैरोन पियरे डि कोबार्टिन के सुझाव पर ओलंपिक ध्वज का सृजन किया गया। इसके बाद जून 1914 में पेरिस में इसका औपचारिक उद्घाटन किया गया। साल 1920 के एंटवर्प (बेल्जियम) ओलंपिक खेलों में इस ध्वज को पहली बार फहराया गया। इस ध्वज का बैकग्राउंड सफेद है जिसपर पांच रंगों ( लाल, नीला, हरा, पीला, काला) के पांच चक्र एक दूसरे को काटते हुए अंकित किए गए हैं। ये पांच चक्र पांच महाद्वीपों के प्रतीक हैं। पीला – एशिया को, काला – अफ्रीका को, लाल – उत्तरी व दक्षिण अमेरिका को, नीला – यूरोप को और, हरा – ऑस्ट्रेलिया को दर्शाता है।

ओलम्पिक ध्वज

नॉर्मन प्रिजार्ड –

नॉर्मन प्रिजार्ड भारत की ओर से ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले पहले आंग्ल-भारतीय एथलीट थे। इन्होंने साल 1900 में आयोजन पेरिस ओलम्पिक में भारत की ओर से भाग लिया और दो रजत पदक देश को दिलाए।

इसे भी पढ़ें...  खेलकूद / खेल जगत प्रश्नोत्तरी

ओलम्पिक खेल से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य –

  • ओलंपिक में शपथ ग्रहण की पृथा की शुरुवात साल 1920 के एंटवर्प ओलंपिक से हुई।
  • ओलंपिक खेलों में शुभंकर की पृथा की शुरुवात साल 1968 के मैक्सिको सिटी ओलंपिक से हुई।
  • टीवी पर ओलंपिक खेलों के विस्तृत प्रसारण की शुरुवात साल 1960 के रोम ओलंपिक से की गई।
  • साल 1972 के म्यूनिख ओलंपिक में फिलिस्तीनी आतंकवादी हमले में इजराइल के 11 एथलीट मारे गए।
  • एक ही ओलंपिक में सर्वाधिक गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाड़ी अमेरिकी तैराक माइकाल फेल्पस हैं। इन्हें गोल्डन शार्क के नाम से जाना जाता है। इन्होंने 2008 के बीजिंग ओलंपिक मे तैराकी की विभिन्न प्रतियोगिताओं में आठ स्वर्ण पदक अपने नाम किए।
  • एक ओलंपिक में सर्वाधिक 55 गोल्ड मेडल जीतने का विश्व रिकार्ड रुस के नाम है। रुस ने साल 1988 के सियोल ओंलंपिक में ये पदक जीते थे।
  • भारत ने ओलंपिक में पहली बार अपनी टीम साल 1920 में भेजी।
  • ओलंपिक खेलों में महिलाओं की भागीदारी वर्ष 1900 से शुरु हुई।
  • कनाडा की सोनिया डेनानकोर्ड ओलंपिक में रेफरी की भूमिका निभाने वाली विश्व की पहली महिला थीं।
  • मैरी लीला राव ओलंपिक में भाग लेने वाली भारत की पहली महिला बनीं।
  • कतर, ब्रुनेई, सऊदी अरब ने पहली बार 2012 के लंदन ओलंपिक में महिला एथलीटों को ओलंपिक में भेजा।

आधुनिक ओलंपिक खेलों के आयोजन स्थल व वर्ष –

वर्षस्थानदेशप्रतियोगिताएंविशेष
1896एथेंस यूनान43
1900पेरिस फ्रांस86पहली बार नॉर्मन प्रिजार्ड ने भारत की ओर से ओलंपिक में भाग लिया
1904सेंट लुइसयू.एस.ए.89
1908लंदनब्रिटेन107
1912स्टॉकहोमस्वीडन102
1916बर्लिनजर्मनी-प्रथम विश्व युद्ध के कारण स्थगित
1920एंटवर्पबेल्जियम151भारत ने पहली बार अपना दल ओलंपिक में भेजा।
1924पेरिसफ्रांस126
1928एम्सटर्डमहालैंड109ओलंपिक मशाल जलाने की शुरुवात
1932लॉस एजेल्सयू.एस.ए.117
1936बर्लिनजर्मनी129ओलंपिक मशाल के वर्तमान स्वरुप को अपनाया
1940टोक्योजापान-द्वितीय विश्व युद्ध के कारण स्थगित
1944लंदनब्रिटेन-द्वितीय विश्व युद्ध के कारण स्थगित
1948लंदनब्रिटेन136
1952हेलसिंकीफिनलैंड149
1956मेलबर्नआस्ट्रेलिया145
1960रोमइटली150टीवी पर विस्तृत प्रसारण की शुरुवात
1964टोक्योजापान163
1968मैक्सिको सिटीमैक्सिको172शुभंकर की परंपरा की शुरुवात
1972म्यूनिखप. जर्मनी195फिलीस्तीनी आतंकी हमले में 11 एथलीटों की मौत
1976मांट्रियलकनाडा198
1980मास्कोसोवियत संघ203
1984लॉस एंजेल्सयू.एस.ए.221
1988सियोलदक्षिण कोरिया237सोवियत संघ ने 55 गोल्ड मेडल जीते
1992बार्सिलोनास्पेन257
1996अटलांटायू.एस.ए.271
2000सिडनीआस्ट्रेलिया300
2004एथेंसयूनान301
2008बीजिंगचीन302
2012लंदनब्रिटेन302तीन बार ओलंपिक का आजोजन करने वाला लंदन पहला शहर बना
2016रियो डि जेनेरियोब्राजील306
2020टोक्योजापान
इसे भी पढ़ें...  राष्ट्रमण्डल खेल

सुगम ज्ञान YouTube Channel को SUBSCRIBE करें

हमारी टीम को प्रोत्साहित करने और नए-नए ज्ञानवर्द्धक वीडियो देखने के लिए सुगम ज्ञान YouTube Channel को SUBSCRIBE जरूर करें। सुगम ज्ञान टीम को सुझाव देने के लिए हमसे WhatsApp और Telegram पर जुड़ें। ऑनलाइन टेस्ट लेनें के लिए सुगम ऑनलाइन टेस्ट पर क्लिक करें, धन्यवाद।

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 147 बार, 1 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...
Close Menu