You are currently viewing पाकिस्तान सामान्य ज्ञान (Pakistan General Knowledge)
कृपया पोस्ट शेयर करें...

पाकिस्तान एशिया महाद्वीप में अवस्थित देश है। इसकी वर्तमान राजधानी इस्लामाबाद औऱ सबसे बड़ा शहर करांची है। यहां के प्रमुख शहर इस्लामाबाद, करांची, पेशावर, स्यालकोट, लाहौर, हैदराबाद, औऱ मुल्तान हैं।

देशपाकिस्तान
राजधानी इस्लामाबाद
स्थापना 14 अगस्त 1947
वर्तमान प्रधानमंत्रीइमरान खान
वर्तमान राष्ट्रपतिडॉ. आरिफ अल्वी
प्रथम राष्ट्रपतिइस्कंदर मिर्जा
प्रथम प्रधानमंत्रीलियाकत अली खान
राजव्यवस्थालोकतांत्रिक
क्षेत्रफल 881913 वर्ग किमी
सबसे बड़ा शहर करांची
कुल राज्य08
विधायिका सदस्य342 (निम्न सदन)
मुद्रापाकिस्तानी रूपया
राजकीय वृक्ष देवदार
राजकीय पुष्प चमेली या जैस्मिन
राजकीय पशु मारखोर
राजकीय पक्षी चकोर
राष्ट्रीय भाषाउर्दू, अंग्रेजी
प्रमुख त्यौहार ईद
प्रमुख नदियाँ सिंधु, रावी, व्यास, सतलज
प्रमुख झील सैफ उल मुलुक,रावल, अट्टाबाद, रश, कींझर, सत्पारा, बंजोसा, शौसर, कारम्बर, रत्ती गली, शांगरी ला,
तट रेखा मकरान (750 किमी)
जनसंख्या 204730000 (2019 में)

पाकिस्तान का इतिहास –

ब्रिटिश साम्राज्य की फूट डालो शासन करो की नीति ही आगे चलकर पाकिस्तान के सृजन की प्रमुख वजह बनीं। पाकिस्तान की मांग 24 मार्च 1940 को मुस्लिम लीग के लाहौर अधिवेशन में की गई थी। इस अधिवेशन की अध्यक्षता मो. अली जिन्ना ने की थी। 27 मार्च 1947 को मुस्लिम लीग ने पाकिस्तान दिवस के रूप में मनाया। पाकिस्तान 14 अगस्त 1947 को भारत के विभाजन के बाद अस्तित्व में आया। पाकिस्तान शब्द के जन्मदाता चौधरी रहमत अली थे।

इसे भी पढ़ें...  कनाडा सामान्य ज्ञान ( Canada General Knowledge )

पाकिस्तान के प्रमुख शहर-

करांची, लाहौर, फैसलाबाद, रावलपिंडी, पेशावर, मुल्तान, हैदराबाद, इस्लामाबाद, बहीबलपुर, सियालकोट, लरकाना, शेखूपुरा, गुजरात, साहिवाल, मुजफ्फरगढ़, ऐबटाबाद, शिकारपुर, जैकोबाबाद, झेलम, उमेरकोट, तक्षशिला, नौशेरा।

भौगोलिक दशा –

इसके सीमावर्ती देश ईरान, अफगानिस्तान औऱ भारत हैं। इसके पश्चिम में बलूचिस्तान का पठार अवस्थित है। पाकिस्तान की सर्वोच्च पर्वत चोटी तिरचमीर है जो कि हिंदुकुश श्रेणी में अवस्थित है। यहां की प्रमुख पर्वत श्रेणियां हिंदुकुश, सुलेमान औऱ किरथर हैं। ये श्रेणियां हिमालय सहित भारतीय उपमहाद्वीप को शेष एशिया से अलग करती हैं। इनमें तीन प्रमुख दर्रे खैबर, बोलन औऱ गोलन हैं। खैबर दर्रा हिंदुकुश श्रेणी में औऱ बोलन दर्रा किरथर श्रेणी में आता है। पाकिस्तान के उत्तर-पश्चिमी सीमा प्रांत में स्वात घाटी अवस्थित है, जिसे पाकिस्तान का स्वर्ग कहा जाता है। जियारत घाटी बलूचिस्तान में अवस्थित है।

जलवायु –

यहां की जलवायु बेहद विषम है। यहां गर्मियों में मौसम बेहद गर्म औऱ सर्दियों में बेहद सर्द रहता है। यहां पर वर्षा बहुत ही कम होती है। क्योंकि बंगाल की खाड़ी से चलने वाली आर्द्र मानसूनी पवनें यहां तक वाष्पशून्य हो जाती हैं औऱ अरब सागर से चलने वाला मानसून यहां तक पहुंच नहीं पाता। यहां पर सर्दियों के मौसम में कुछ वर्षा भूमध्यसागर से हो जाती है।

पाकिस्तान की प्रमुख नदियां –

देश की प्रमुख नदी सिंधु है। पाकिस्तान की प्रमुख नदियां सिंधु, झेलम, चिनाव, रावी, व्यास, काबुल औऱ सतलज हैं। सिंधु व उसकी सहायक नदियों से इतनी नहरें निकाली गई हैं कि इसे नहरों का देश कहा जाता है। इसीलिए वर्षा का अभाव होते हुए भी यह एक कृषि प्रधान देश है।

इसे भी पढ़ें...  चीन सामान्य ज्ञान (China General Knowledge)

कृषि –

यह एक कृषि प्रधान देश है, यहां की अर्थव्यवस्था में कृषि उत्पादों का प्रमुख स्थान है। गेहूं व कपास यहां की प्रमुख फसलें हैं। जहां पर सिंचाई की सुविधा नहीं है वहां ज्वार, बाजरा जैसे उत्पादों पर जोर दिया गया है। यहां के प्रमुख फल अंगूर, सेब, अंजीर, बादाम, खजूर औऱ संतरा हैं।

प्रमुख औद्योगिक व खनन स्थल –

यहां पर सेंधा नमक, चूना पत्थर औऱ जिप्सम की प्राप्ति के लिए साल्टरेंज महत्वपूर्ण है। मियाल व सुई का क्षेत्र प्राकृतिक गैस हेतु और क्वेटा का क्षेत्र कोयले के खनन के लिए महत्वपूर्ण है। इनके अतिरिक्त स्यालकोट खेल के सामान का, करांची, लाहौर व मुल्तान सूती वस्त्र उद्योग का, मर्दान चीनी उद्योग का, औऱ नौशेरा कागज उद्योग का प्रमुख केंद्र है। यहां का काहुटा परमाणु शक्ति केंद्र के लिए प्रसिद्ध है। अफगानिस्तान के सीमावर्ती क्षेत्र चगाई पहाड़ियों पर पाकिस्तान का परमाणु परीक्षण स्थल है।

रेडक्लिफ रेखा –

भारत-पाकिस्तान विभाजन के बाद दोनों देशों के बीच सीमा निर्धारण एक अहम मुद्दा था। इनके निर्धारण के लिए न्यायमूर्ति रेडक्लिफ की अध्यक्षता में एक आयोग का गठन किया गया। इसका कार्य भारत औऱ पाकिस्तान के बीच की अंतरराष्ट्रीय सीमा का निर्धारण करना था। परंतु रेडक्लिफ को इस कार्य के लिए बेहद कम समय ( 6 सप्ताह) मिला। जिसकी वजह से सीमा निर्धारण में काफी त्रुटियां रह गईं।

सुगम ज्ञान टीम का निवेदन

प्रिय पाठको,
आप सभी को सुगम ज्ञान टीम का प्रयास पसंद आ रहा है। अपने Comments के माध्यम से आप सभी ने इसकी पुष्टि भी की है। इससे हमें बहुत ख़ुशी महसूस हो रही है। हमें आपकी सहायता की आवश्यकता है। हमारा सुगम ज्ञान नाम से YouTube Channel भी है। आप हमारे चैनल पर समसामयिकी (Current Affairs) एवं अन्य विषयों पर वीडियो देख सकते हैं। हमारा आपसे निवेदन है कि आप हमारे चैनल को SUBSCRIBE कर लें। और कृपया, नीचे दिए वीडियो को पूरा अंत तक देखें और लाइक करते हुए शेयर कर दीजिये। आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

सुगम ज्ञान से जुड़े रहने के लिए

Add to Home Screen

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 3,168 बार, 2 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...