कृपया पोस्ट शेयर करें...

पीलीभीत जिला 3499 वर्ग किमी में विस्तृत है इसमें 05 तहसीलें, 07 ब्लॉक और कुल 1440 गाँव हैं। पीलीभीत 28°38’59” से 28°64’97” उत्तरी अक्षांश और 79°52’21” से 79°87’24” पूर्वी देशांतर के मध्य स्थित है। पीलीभीत में कुल 05 तहसीलें – सदर, बीसलपुर, पूरनपुर, अमरिया, कलीनगर हैं। पीलीभीत में 07 ब्लॉक – अमरिया, बीसलपुर, पूरनपुर, बिलसंडा, बरखेड़ा, मरौरी, ललौरीखेड़ा हैं। यहाँ पर मुख्य रूप से बांसुरी बनाने का कार्य किया जाता है। पीलीभीत में 04 चीनी मिल हैं – पीलीभीत, बीसलपुर, पूरनपुर, मझोला में। पीलीभीत में 15 पुलिस स्टेशन – कोतवाली, सुनगढ़ी, महिला थाना पीलीभीत, अमरिया, न्यूरिया, जहानाबाद, गजरौला, बीसलपुर, बरखेड़ा, बिलसंडा, दियूरिया कलां, पूरनपुर, माधोटांडा, हाजारा, सेहरा मऊ उत्तरी हैं। यहाँ के बनवसा क्षेत्र में शारदा जल विद्युत परियोजना की स्थापना की गयी है। यहाँ 03 नगर पालिका परिषद् – पीलीभीत, बीसलपुर, पूरनपुरऔर 06 नगर पंचायत – जहानाबाद, गजरौला, बरखेड़ा, बिलसंडा, कलीनगर, न्यूरिया हुसैनपुर हैं। समुद्र तल से ऊंचाई 172 मीटर (564 फिट) है। पीलीभीत के धार्मिक स्थल – गौरीशंकर मंदिर, जामा मस्जिद, छटवी पादशाही गुरुद्वारा, हजरत शाह मोहम्मद शेर मियां की दरगाह।

पीलीभीत के सीमावर्ती जिलेबरेली, शाहजहाँपुर, लखीमपुर-खीरी, टनकपुर।

पीलीभीत जिला एक नजर में (Pilibhit District at a Glance)

जिला पीलीभीत
उपनाम छोटा पंजाब
क्षेत्रफल 3499 वर्ग किमी
जनसंख्या (2011)2031007
लिंगानुपात 895
जनघनत्व 551
साक्षरता 61.5 %
तहसीलें 05
विकासखंड 07
गाँव 1440
पुलिस स्टेशन 15
नगरपालिका परिषदें 03
नगर पंचायतें 06
परियोजना शारदा जलविद्युत परियोजना, बनवसा
समुद्र तल से ऊंचाई 172 मीटर या 564 फ़ीट
मंदिर गौरी-शंकर मंदिर,
मस्जिदजामा मस्जिद
गुरुद्वारा छठवीं पादशाही गुरुद्वारा
दरगाह हजरत शाह मुहम्मद शेर मियां की दरगाह
मंडल बरेली
RTO कोड UP 26
मिट्टी दोमट मिट्टी
झील फुल्हर झील
नदियाँ शारदा, लोहिया, घाघरा, सुन्दरिया
भाषाएं हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू
अभ्यारण्य पीलीभीत टाइगर रिजर्व
कृषि जलवायु प्रदेश भांवर व तराई क्षेत्र
इसे भी पढ़ें...  अलीगढ़ उत्तर प्रदेश (Aligarh Uttar Pradesh)

Recommended Books

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण पुस्तकें आप यहाँ से खरीद सकते हैं और लोकप्रिय उपन्यासों को यहाँ से खरीदें। धन्यवाद !

प्रायोजित

सुगम ज्ञान टीम का निवेदन

प्रिय पाठको,
आप सभी को सुगम ज्ञान टीम का प्रयास पसंद आ रहा है। अपने Comments के माध्यम से आप सभी ने इसकी पुष्टि भी की है। इससे हमें बहुत ख़ुशी महसूस हो रही है। हमें आपकी सहायता की आवश्यकता है। हमारा सुगम ज्ञान नाम से YouTube Channel भी है। आप हमारे चैनल पर समसामयिकी (Current Affairs) एवं अन्य विषयों पर वीडियो देख सकते हैं। हमारा आपसे निवेदन है कि आप हमारे चैनल को SUBSCRIBE कर लें। और कृपया, नीचे दिए वीडियो को पूरा अंत तक देखें और लाइक करते हुए शेयर कर दें अर्थात वायरल कर दीजिये। आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

सुगम ज्ञान से जुड़े रहने के लिए

Add to Home Screen

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 1,166 बार, 1 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...