स्वागतम्
कृपया पोस्ट शेयर करें...

तेलंगाना सामान्य ज्ञान (Telangana General Knowledge) – तेलंगाना राज्य का गठन 02 जून 2014 को भारत के 29 वें राज्य के रूप में हुआ। इससे पूर्व यह आंध्र प्रदेश का हिस्सा था। इसकी राजधानी हैदराबाद है। इसकी सीमा पाँच राज्यों – महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, ओडिसा, सीमांध्रा और कर्नाटक से मिलती है। इसका उच्च न्यायालय तेलंगाना हाई कोर्ट है जो कि हैदराबाद में अवस्थित है। इस राज्य का विधानमण्डल द्विसदनात्मक है, अर्थात यहाँ विधानसभा के साथ एक 40 सदस्यीय विधानपरिषद की भी व्यवस्था की गयी है।

तेलंगाना : एक नजर में (Telangana at a Glance)

राज्य तेलंगाना
राजधानी हैदराबाद
स्थापना दिवस 2 जून 2014
राज्यपाल ई. एस. एल. नरसिम्हन
मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव
उच्च न्यायालय तेलंगाना हाई कोर्ट (हैदराबाद)
क्षेत्रफल112077 वर्ग किमी.
जनसँख्या 3,52,86,757
लोकसभा सीटें 17
राज्यसभा सीटें 07
विधानसभा सीटें 119
विधान परिषद् 40
कुल जिले10
राजकीय पुष्प Tanner's Cassia (टँगेड़ू)
राजकीय पक्षी Palapitta (इंडियन रोलर या ब्लू जे)
राजकीय पशु जिंका हिरण
राजकीय वृक्ष जम्मी चेट्टु
जन घनत्व 312
लिंगानुपात 988
भाषा तेलुगु, उर्दू
लोकनृत्य यक्षगान
नदियाँ गोदावरी, कृष्णा, मूसी

तेलंगाना का गठन –

तेलंगाना राज्य निर्माण की मांग आंध्र प्रदेश के गठन के समय से ही उठने लगी थी। इसके लिए जय तेलंगाना आंदोलन की भी शुरुवात हुयी थी। तेलंगाना के गठन के मामले में केंद्र और राज्य सरकार कभी एकमत नहीं थे। राज्य की कुछ पार्टियां इसकी अखंडता में विश्वास करती थीं। परन्तु सन् 2008 में तेलगुदेशम पार्टी ने तेलंगाना की मांग को अपना समर्थन देने की घोषणा कर दी। दिसंबर 2009 में भारत सरकार ने इसके गठन के लिए प्रक्रिया शुरू करने का निर्णय लिया। परन्तु इसके विरोध में प्रदर्शन और व्यापक इस्तीफे हुए। अतः इस मामले को ठण्डे बस्ते में डाल दिया गया। इसके बाद फरवरी 2010 में भारत सरकार ने इस मुद्दे पर श्रीकृष्ण समिति का गठन किया।

जुलाई 2013 में केंद्रीय मंत्रिमंडल  ने तेलंगाना को राज्य बनाने का निर्णय ले लिया। हालाँकि प्रदेश में इसका भी विरोध हुआ था। दिसंबर 2013 को यह विधेयक विधानमंडल में पेश हुआ और भारी हंगामे के बाद दोनों सदनों से अस्वीकार कर दिया गया। अब ये विधेयक लोकसभा में भेज दिया गया। फरवरी 2014 में यह विधेयक लोकसभा से पारित हो गया तो मुख्यमंत्री किरण रेड्डी ने इस्तीफ़ा दे दिया। इसके बाद विधेयक राज्यसभा से पास हुआ। 1 मार्च 2014 को राष्ट्र्पति प्रणव मुखर्जी ने इस विधेयक पर हस्ताक्षर किये। 2 जून 2014 को 29 वें राज्य के रूप में तेलंगाना का गठन हुआ।

इसे भी पढ़ें...  भारतीय संविधान द्वारा नागरिकों को प्रदत्त मूल अधिकार

तेलंगाना में कुल 10 जिले हैं –

हैदराबाद, निजामाबाद, वारंगल, आदिलाबाद, करीमनगर, खम्मम, महबूबनगर, मेदक, नलगोंडा, रंगा रेड्डी

WhatsApp पर सुगम ज्ञान से जुड़ें

सुगम ज्ञान से कोई प्रश्न पूछने या सुझाव देने के लिए हमारे मोबाइल नम्बर 8410242335 पर WhatsApp करेें और हमारे सामान्य ज्ञान/समसामयिकी WhatsApp Group से जुड़ें, धन्यवाद।

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 23 बार, 1 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...
Close Menu
Inline
Inline