स्वागतम्
कृपया पोस्ट शेयर करें...

विश्व के ज्वालामुखी (Volcanoes of the World) – ज्वालामुखी भू-पटल पर वे छिद्र या विविर हैं जिनसे मैग्मा, जलवाष्प, गैस व राख का उदगार होता रहता है। ज्वालामुखी तीन प्रकार के होते हैं – सक्रिय ज्वालामुखी, सुषुप्त ज्वालामुखी, मृत ज्वालामुखी। उदगार के समय भू-गर्भ में उपस्थित तरल पदार्थ को मैग्मा कहा जाता है। जब ये मैग्मा पृथ्वी की सतह पर फ़ैल जाता है तो इसे लावा कहा जाता है। सिलिका के आधार पर लावा दो प्रकार का होता है – एसिड लावा और बेसिक लावा। एसिड लावा अत्यधिक गाढ़ा व चिपचिपा होता है। इसमें सिलिका की मात्रा अधिक होती है। बेसिक लावा हल्का व पतला होता है, इसमें सिलिका की मात्रा कम होती है। निकलने वाला यह पदार्थ अत्यधिक गर्म होता है। उस वक्त इसका ताप 600° – 1200° सेल्सियस तक होता है। पृथ्वी की सतह पर ठंडा होने के बाद यह लावा आग्नेय चट्टान का रूप लेता है।

लिपारी द्वीप पर स्थित स्ट्राम्बोली ज्वालामुखी को भूमध्यसागर का प्रकाश स्तंभ कहा जाता है। अमेरिका के हवाई द्वीप पर अवस्थित किलायू ज्वालामुखी विश्व का सर्वाधिक सक्रिय ज्वालामुखी है।

ज्वालामुखी विस्फोट से निकलने वाली गैसें –

ज्वालामुखी उदगार में निकलने वाली गैसों में सर्वाधिक मात्रा जलवाष्प की होती है। इसके अतिरिक्त कार्बन डाईऑक्साइड और सल्फर डाई ऑक्साइड भी उदगार में निकलने वाली गैस हैं। उदगार में उत्सर्जित होने वाली अन्य गैसें – हाइड्रोजन, हाइड्रोजन सल्फाइड, कार्बन मोनो ऑक्साइड, हाइड्रोजन क्लोराइड, हाइड्रोजन फ्लोराइड, हीलियम हैं।

इसे भी पढ़ें...  पृथ्वी की आतंरिक संरचना (The Internal Structure of the Earth)

आतंरिक आग्नेय चट्टानें –

जब लावा धरातल पर पहुँचने से पहले ही उसके नीचे जम जाता है तो आतंरिक आग्नेय चट्टानों की संरचना बनती है। ये दो प्रकार की होती है – प्लूटोनिक/पातालीय चट्टानें, अधिवितलीय/मध्यवर्तीय चट्टानें।

ज्वालामुखी स्थिति ज्वालामुखी स्थिति
कोटोपैक्सी इक्वाडोर स्ट्राम्बोली लीपापी द्वीप (भूमध्यसागर)
माउंट एटना सिसली द्वीप (इटली)माउंट इरेबस रॉस (अंटार्कटिका)
मोनालोआ हवाई द्वीप फ्यूजियामा जापान
विसुवियस नेपल्स की खाड़ी (इटली)क्राकाटाओ इंडोनेशिया
किलिमंजरो तंजानिया माउंट रेनियर USA
आजोसडेल सडेलो अर्जेंटीना-चिली पोपोकैटेपिटल मेक्सिको
माउंट कैमरून कैमरून (अफ्रीका)माउंट पीली मर्टिनीक द्वीप
हेक्ला व लाकी आइसलैंड कटमई अलास्का (USA)
माउंट रेनियर USA माउंट शास्ता USA
चिंबरजो इक्वाडोर माउंट ताल फिलीपींस
माउंट पिनाटुबो फिलीपींस कोह सुल्तान ईरान
मेयाना फिलीपींस इजाफ जालाजोकुल आइसलैंड

नोट – बाल्टिक सागर में ज्वालामुखी उदगार नहीं होते।

WhatsApp पर सुगम ज्ञान से जुड़ें

सुगम ज्ञान से कोई प्रश्न पूछने या सुझाव देने के लिए हमारे मोबाइल नम्बर 8410242335 पर WhatsApp करेें और हमारे सामान्य ज्ञान/समसामयिकी WhatsApp Group से जुड़ें, धन्यवाद।

चर्चा
(अब तक देखा गया कुल 6 बार, 1 बार आज देखा गया)
कृपया पोस्ट शेयर करें...
Close Menu
Inline
Inline