डेली करेंट अफेयर्स 1 अक्टूबर 2022 | Daily Current Affairs in Hindi

आर. वेंकटरमणि होंगे भारत के अगले अटॉर्नी जनरल, मध्यप्रदेश के बांधवगढ़ में मिली 26 गुफाएं, ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स 2022 में क्या है भारत का स्थान ?, क्या है ऑपरेशन गरुण…?

आर. वेंकटरमणि बने AGI

उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ वकील आर वेंकटरमणि आज 1 अक्टूबर 2022 से अटॉर्नी जनरल ऑफ इंडिया (AGI) नियुक्त होंगे। इन्हें इस पद पर आगामी 3 वर्षों के लिए नियुक्त किया गया। वर्तमान AGI के.के. वेणुगोपाल का कार्यकाल 30 सितंबर को पूरा हो गया। हालांकि 91 वर्षीय वेणुगोपाल का कार्यकाल 30 जून को ही समाप्त हो गया था लेकिन केंद्र सरकार द्वारा इसे 3 माह के लिए बढ़ा दिया गया था। वेंकटरमणि को 2010 में भारत के विधि आयोग का सदस्य नियुक्त किया गया था।   


सुगम ज्ञान मासिक क्विज

रजिस्ट्रेशन शुल्क मात्र ₹49/- ₹29/- है। जिसमें आपको पूरे महीने की करंट अफेयर्स पीडीएफ (ई-बुक) मिलेगी और अपनी तैयारी को जाँचने के साथ-साथ नकद इनाम जीतने का मौका मिलेगा। पहला, दूसरा व तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को क्रमशः ₹300, ₹200 व ₹100 का नकद इनाम दिया जाएगा।


बांधवगढ़ में मिली 26 गुफाएं

मध्यप्रदेश के बांधवगढ़ में 1000 वर्ष पुरानी 26 गुफाओं की प्राप्ति हुई है। जो कि मध्यप्रदेश के उमरिया जिले में स्थित टाइगर रिजर्व से प्राप्त हुई हैं। यह टाइगर रिजर्व 1100 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला है। भारतीय पुरातत्व संस्थान द्वारा यहाँ के 170 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र को खंगालने के बाद ये अवशेष प्राप्त हुए हैं। यहाँ पर हिन्दू व बौद्ध धर्म से जुडे अवशेषों की प्राप्ति हुई है। प्राप्त गुफाएं बौद्ध धर्म की महायान शाखा से संबंधित हैं। इनमें मंदिर, गुफा व मूर्तियों के अवशेष शामिल हैं। यहाँ पर बराह की एक खंडित प्रतिमा मिली है, जो शायद दुनिया की सबसे बड़ी खण्डित प्रतिमा हो सकती है। डॉ. शिवकांत वाजपेयी की देखरेख में इस खोज को अंजाम दिया गया। 

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स – 2022

विश्व बौद्धिक सम्पदा संगठन द्वारा 29 सितंबर को जारी ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स 2022 में 132 देशों में भारत को 40वां स्थान प्राप्त हुआ है। इस सूची में स्विजरलैंड लगातार 12वें वर्ष शीर्ष पर है। तत्पश्चात अमेरिका, स्वीडन, यूके, व नीदरलैंड का नाम है।

ऑपरेशन गरुण

हाल ही में चर्चा में रहा ऑपरेशन गरुण CBI द्वारा चलाया गया। यह केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा अवैध मादक पदार्थों की तस्करी के नेटवर्क के विरुद्ध चलाया गया एक बहु चरणीय अभियान है। यह एक वैश्विक अभियान है जिसकी शुरुवात इंटरपोल व नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के सहयोग से की गई थी। सीबीआई ने ऑपरेशन गरुण के तहत 127 नए मामले दर्ज किये, 175 लोगों को गिरफ्तार किया। साथ ही भारी मात्रा में मादक पदार्थ जब्त किये।

Leave a Comment

चैट खोलें
1
मदद चाहिए ?
Scan the code
हम आपकी किस प्रकार सहायता कर सकते हैं ?