GST वस्तु एवं सेवा कर

GST वस्तु एवं सेवा कर – भारत में GST लागू होना आर्थिक नीति में दशकों बाद इतना बड़ा परिवर्तन साबित हुआ। GST के इतिहास पर नजर डाली जाये तो विश्व को इससे परिचित करवाने वाला देश फ्रांस था। फ़्रांस में सन् 1954 में GST को लागू किया गया। विश्व में GST को लागू करने वाला फ्रांस पहला देश है।

भारतीय परिपेक्ष में वस्तु एवं सेवा कर (GST)

भारत में GST के लिए 122 वां संविधान संशोधन बिल 2014 में संसद में लाया गया। इसे 3 अगस्त 2016 को लोकसभा से तदुपरांत 8 अगस्त 2016 को राज्यसभा से पास कर दिया गया। इसके बाद 8 सितंबर 2016 को राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद यह अधिनियम बन गया। सबसे पहले इसे 12 अगस्त 2016 को असोम में लागू किया गया। संपूर्ण भारत में इसे 1 जुलाई 2017 को लागू किया गया। जो कि फ़्रांस के नहीं बल्कि कनाडा के मॉडल पर आधारित है। GST एक प्रकार का अप्रत्यक्ष कर है। भारत में GST लागू करने का सुझाव विजय केलकर समिति ने दिया। इस प्रकार भारत GST लागू करने वाला विश्व का 161 वां देश बना।

GST ( Goods and Service Tax ) से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य –

  • GST परिषद् की स्थापना कब हुयी – 12 सितंबर 2016 
  • GST परिषद् में कुल कितने सदस्य हैं – 33 सदस्य 
  • GST कितने प्रकार का होता है – तीन 
  • GST के तीन प्रकार कौन-कौन से हैं – Integrated GST, Central GST, State GST
  • GST परिषद् का अध्यक्ष कौन होता है – वित्त मंत्री 
  • GST का ब्रांड एम्बेस्डर किसे बनाया गया – अमिताभ बच्चन 
  • सर्वप्रथम GST बिल का प्रारूप तैयार करने वाली समिति के अध्यक्ष कौन थे – असीम दास गुप्ता 
  • GST के तहत कितने स्लैव निर्धारित किये गए हैं – चार (5%, 12%, 18%, 28%)
  • GST का मुख्यालय कहाँ पर अवस्थित है – दिल्ली 
  • GST लागू करने वाला भारत का पहला राज्य कौनसा है  – असोम 
  • GST लागू करने वाला भारत का अंतिम राज्य – जम्मू कश्मीर 
  • GST पंजीकरण संख्या में कितने अंक होते हैं – 15 
  • किन वरतुओं को GST से बाहर रखा गया है – शराब, पेट्रोलियम उत्पाद, रेलवे, स्वास्थ्य सेवाएं 
  • राज्यों को GST से होने वाले नुकसान की भरपाई केंद्र सरकार द्वारा कितने समय तक की जाएगी – 5 वर्ष

 

Leave a Comment

चैट खोलें
1
मदद चाहिए ?
Scan the code
हम आपकी किस प्रकार सहायता कर सकते हैं ?