भारत सरकार की योजनाएं

भारत सरकार की योजनाएं – भारत सरकार जनता के हित के लिए विभिन्न योजनाएं चलाती है। कुछ प्रमुख योजनाओं की जानकारी यहाँ दी गई है।

नमामि गंगे योजना –

नमामि गंगे योजना की शुरुवात 10 जुलाई 2014 को हुयी थी। इसका उद्देश्य गंगा नदी की शुद्धि व संरक्षण करना है। इस योजना को पूर्ण करने का लक्ष्य 2020 को रखा गया है। इस हेतु अगले 5 वर्ष के लिए 2037 करोड़ रुपयों का आवंटन किया गया है। इस योजना की देखरेख जल संसाधन मंत्रालय के अंतर्गत होती है।

प्रधानमंत्री जन-धन योजना –

प्रधानमंत्री जन धन योजना की शुरुवात 28 अगस्त 2014 को की गयी। इस योजना के तहत 10 वर्ष से अधिक का कोई भी व्यक्ति जीरो बैलेंस पर बैंक में अपना खाता खुलवा सकता है। इस योजना के तहत खाताधारक को एक लाख रूपये का दुर्घटना बीमा भी दिया जायेगा। इस योजना का नारा “मेरा खाता भाग्य विधाता” है।

मेक इन इंडिया –

मेक इन इंडिया  शुरुवात 25 सितंबर 2014 को की गयी। इस योजना का उद्देश्य 2020 तक GDP में विनिर्माण क्षेत्र  को 16% से बढ़ाकर 25% करना है।

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना –

दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना की शुरुवात 25 सितंबर 2014 को दीनदयाल के 98वें जन्म दिवस के उपलक्ष्य में की गयी। इसके अंतर्गत 10 लाख ग्रामीण युवाओं (15 से 35 वर्ष आयु वर्ग) को रोजगार वितरण करने का उद्देश्य रखा गया है। इसके लिए 1500 करोड़ रूपये का प्रारंभिक फंड आवंटित किया गया है।

स्वच्छ भारत मिशन –

स्वच्छ भारत मिशन की शुरुवात 2 अक्टूबर 2014 को की गयी। इसका कार्यान्वयन शहरी विकास मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है। इसके अंतर्गत 5 वर्ष में अर्थात 2 अक्टूबर 2019 तक संपूर्ण देश को स्वच्छ बनाना है। स्वच्छ भारत अभियान का नारा “एक कदम स्वच्छता की ओर” है।

सांसद आदर्श ग्राम योजना –

सांसद आदर्श ग्राम योजना की शुरुवात 11 अक्टूबर 2014 को जयप्रकाश नारायण के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में की गयी। इसका उद्देश्य प्रत्येक सांसद द्वारा 5 वर्षों में 3 गावों को गोद लेकर उनका विकास करना है।

मिशन इंद्रधनुष –

मिशन इंद्रधनुष की शुरुवात 25 दिसंबर 2014 को सुशासन दिवस के मौके पर की गयी। इसका उद्देश्य सभी बच्चों को टीकाकरण के अंतर्गत लाना है। इस अभियान के उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए समय सीमा 2020 तय की गयी है। इस अभियान के तहत सात बीमारियों के टीकाकरण का प्रबंध किया गया है। इसी लिए इस अभियान का नाम इंद्रधनुष मिशन रखा गया है। ये सात बीमारियां – पोलियो, टिटनेस, टीबी, खसरा, काली खांसी, डिप्थीरिया, हेपेटाइटिस बी हैं।

पहल योजना या DBTL –

पहल योजना की शुरुवात 1 जनवरी 2015 को की गयी। यह योजना गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स में भी दर्ज है। इसके अंतर्गत उपभोक्ता के LPG सिलेंडर की सब्सिडी सीधे उसके बैंक खाते में भेजने का प्रबंध किया गया।

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना –

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की शुरुवात 22 जनवरी 2015 को हरियाणा के पानीपत से की गयी। हरियाणा में लिंगानुपात के गिरे हुए स्तर को ध्यान में रखते हुए इस योजना की शुरुवात हरियाणा राज्य से की गयी।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना –

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना की शुरुवात 9 मई 2015 को गयी। इस योजना के तहत 18 से 50 वर्ष आयु वर्ग का कोई भी नागरिक 330 रूपये वार्षिक की प्रीमियम राशि भर कर २ लाख रूपये का जीवन बीमा प् सकता है।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना –

प्रधानमंत्री बीमा योजना की शुरुवात 9 मई 2015 को कोलकाता से की गयी। इसके तहत 18 से 70 वर्ष आयु का कोई भी नागरिक 12 रूपये प्रति माह की प्रीमियम राशि भर कर एक से दो लाख तक का दुर्घटना बीमा कवर पा सकता है।

अटल पेंशन योजना –

अटल पेंशन योजना की शुरुवात 9 मई 2015 को कोलकाता से की गयी। इस योजना का उद्देश्य असंगठित क्षेत्र के लोगों को  सुविधा उपलब्ध कराना है। इस योजना का प्रशासन पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा संभाला जाता है। इस योजना में 18 से 40 वर्ष आयु वर्ग का कोई भी व्यक्ति इसमें अंशदान कर 60 वर्ष की आयु के बाद 1 हजार से 5 हजार तक प्रति माह का लाभ ले सकता है।

अमरुत योजना –

अमरुत योजना की शुरुवात 24 जून 2015 को की गयी। इस योजना के लिए केंद्र सरकार द्वारा 5000 करोड़ के बजट की भी व्यवस्था की गयी है। इस योजना के अंतर्गत 100 स्मार्ट सिटी बनाने की भी योजना है।

प्रधानमंत्री आवास योजना (Housing for All)-

प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुवात 25 जून 2015 को की गयी। इस योजना के तहत 2022 तक 2 करोड़ आवासों का निर्माण करना है।

डिजिटल इंडिया मिशन –

डिजिटल इंडिया मिशन की शुरुवात 1 जुलाई 2015 को हुयी।

स्किल इंडिया मिशन –

स्किल इंडिया मिशन की शुरुवात 15 जुलाई 2015 को हुयी।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना –

प्रधनमंत्री कौशल विकास योजना की शुरुवात 16 जुलाई 2015 को की गयी।

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना –

दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना की शुरुवात 25 जुलाई 2015 को की गयी। इस योजना का  लक्ष्य सभी गाँवों तक बिजली पहुँचाना है।

उदय योजना –

उदय योजना की शुरुवात 5 नवंबर 2015 को हुयी। इस योजना से जुड़ने वाला पहला राज्य झारखण्ड बना।

स्टार्ट-अप इंडिया –

स्टार्ट अप इंडिया की शुरुवात 16 जनवरी 2016 को हुयी।

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना –

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की शुरुवात 1 मई 2016 को की गयी। इस योजना का उद्देश्य देश के सभी BPL परिवारों को मुफ्त में गैस कनेक्शन तथा 1600 रूपये की वित्तीय सहायता भी देना है। इसके लिए 8000 करोड़ की राशि का बजट रखा गया।

Leave a Comment

चैट खोलें
1
मदद चाहिए ?
Scan the code
हम आपकी किस प्रकार सहायता कर सकते हैं ?