डेली करेंट अफेयर्स 18 अक्टूबर 2022 | Daily Current Affairs in Hindi

ISRO का न्यू जेनरेशन लांच व्हीकल, भारत कृषि उपग्रह कार्यक्रम, लिविंग प्लैनेट रिपोर्ट, इंटरपोल की महासभा का सम्मेलन भारत में, पीएम किसान सम्मान सम्मेलन…

इसरो का NGLV –

इसरो की नई प्रस्तावित Next Generation Launch Vehicle (NGLV) प्रणाली वर्तमान परिचालन प्रक्षेपण प्रणाली PSLV का स्थान लेने जा रही है। यह तीन चरणों वाली भारी लिफ्ट Reusable Vehicle है। भूस्थैतिक स्थानांतरण कक्षा (GTO) के लिए इसकी भार वहन क्षमता 10 हजार किलोग्राम और निम्न पृथ्वी कक्षा (LEO) में इसकी भार वहन क्षमता 20 हजार किलोग्राम है।


सुगम ज्ञान मासिक क्विज

रजिस्ट्रेशन शुल्क मात्र ₹49/- ₹29/- है। जिसमें आपको पूरे महीने की करंट अफेयर्स पीडीएफ (ई-बुक) मिलेगी और अपनी तैयारी को जाँचने के साथ-साथ नकद इनाम जीतने का मौका मिलेगा। पहला, दूसरा व तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को क्रमशः ₹300, ₹200 व ₹100 का नकद इनाम दिया जाएगा।


भारत कृषि उपग्रह कार्यक्रम –

इसरो का भारत कृषि उपग्रह कार्यक्रम देश के कृषि क्षेत्र को समर्पित कार्यक्रम है। इसके तहत भारत के संपूर्ण कृषि क्षेत्र को कवर करने के लिए कम से कम दो उपग्रहों की आवश्यकता पड़ेगी। यह कृषि संबंधी गतिविधियों के आंकड़ों आदि का विस्तार करेगा।

लिविंग प्लैनेट रिपोर्ट –

हाल ही मे विश्व वन्यजीव कोष द्वारा Living Planet Report जारी की गई है। इसके अनुसार 1970 से 2018 के बीच के पिछले 5 दशकों में मॉनीटर की गई वन्यजीव आबादी में 69 प्रतिशत की गिरावट आयी है। कठोर व विनाशकारी जलवायु परिवर्तन, बीमारियाँ, आक्रामक प्रजातियां, प्रदूषण, भूमि व आवास में गिरावट को इस प्रकार की गिरावट का कारण है।

इंटरपोल महासभा सम्मेलन –

अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन (इंटरपोल) महासभा के इस बार के सम्मेलन की मेजबानी भारत ने की। जिसका आयोजन दिल्ली में किया गया। इंटरपोल एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जिसकी स्थापना 1923 ई. में की गई थी। इसका मुख्यालय फ्रांस के लियोन में है। भारत ने इस बार इंटरपोल की दूसरी बार मेजबानी की है। इससे पहले 1997 में भारत ने इंटरपोल के सम्मेलन की मेजबानी की थी। संयुक्त अरब अमीरात के अहमद नसीर अल रईसी वर्तमान में इंटरपोल के अध्यक्ष हैं।

पीएम किसान सम्मान सम्मेलन –

प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत किसानों के लिए 16 हजार करोड़ रुपये की 12वीं किस्त को भी जारी कर दिया गया है। इसके तहत देश के करीब 12 करोड़ किसानों को लाभान्वित किया गया। प्रधानमंत्री जी ने रसायन और उर्वरक मंत्रालय के तहत कुल 600 प्रधानमंत्री किसान समृद्धि केंद्रों का उद्घाटन किया।

Leave a Comment

चैट खोलें
1
मदद चाहिए ?
Scan the code
हम आपकी किस प्रकार सहायता कर सकते हैं ?