डेली करेंट अफेयर्स 23 सितंबर 2022 | Daily Current Affairs in Hindi

23 सितंबर को मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस, REC को मिला महारत्न कंपनी का दर्जा, अनिल खन्ना ने दिया राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOA) के कार्यकारी अध्यक्ष पद से इस्तीफा, किगाली संशोधन क्या है ? क्या है मूनलाइटिंग ? स्वदेश दर्शन योजना में केंद्रीय मंत्री ने जोड़ा आम्बेडकर सर्किट…

अंतर्राष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस

हर साल 23 सितंबर को दुनिया भर में अंतर्राष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा बधिर लोगों के मानवाधिकारों की प्राप्ति में सांकेतिक भाषा के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से हर साल 23 सितंबर को यह दिवस मनाने की घोषणा की थी। इस तिथि को ही साल 1951 में वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ डेफ की स्थापना की गई थी। पहली बार इस दिवस को साल 2018 में मनाया गया था।


सुगम ज्ञान मासिक क्विज

रजिस्ट्रेशन शुल्क मात्र ₹49/- ₹11/- है। जिसमें आपको पूरे महीने की करंट अफेयर्स पीडीएफ (ई-बुक) मिलेगी और अपनी तैयारी को जाँचने के साथ-साथ नकद इनाम जीतने का मौका मिलेगा। पहला, दूसरा व तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को क्रमशः ₹300, ₹200 व ₹100 का नकद इनाम दिया जाएगा।


REC को मिला महारत्न कंपनी का दर्जा

सरकारी क्षेत्र में पॉवर सेक्टर की भारतीय कंपनी आरईसी लिमिटेड को महारत्न कंपनी का दर्जा दिया गया है। यह महारत्न का खिताब प्राप्त करने वाली 12वीं कंपनी है। इसके अतिरिक्त भारत में 13 नवरत्न और 74 मिनीरत्न कंपनियां हैं। गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनी आरईसी का गठन 1969 ई. में किया गया था। यह देश भर में पावर सेक्टर के फाइनेंस एण्ड डेवलपमेंट पर केंद्रित है।

अनिल खन्ना

राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOA) के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रहे अनिल खन्ना ने कार्यकारी अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया है। इन्हें यह कार्यभार IOA के पूर्व अध्यक्ष नरेंद्र बत्रा के बाद सौंपा गया था।

किगाली संशोधन

अमेरिकी सीनेट ने ओजोन प्रदूषण पर 1987 के मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल में किगाली संशोधन की पुष्टि की है। यह रेफ्रिटरेटर के उपयोग को सीमित करने के लिए है। अंतर्राष्ट्रीय समझौतों में भाग लेने वाले देशों द्वारा अगले 14 वर्षों में हाइड्रोफ्लोरोकार्बन के उत्पादन में 85 प्रतिशत तक कमी लाने की आवश्यकता की ओर इशारा किया गया है। इस समझौते की पुष्टि औपचारिक रूप से भारत, चीन, रूस समेत दुनिया के 130 से अधिक देशों द्वारा की गई है।

मूनलाइटिंग

एक साथ दो कंपनियों के लिए काम करने को मूनलाइटिंग कहा जाता है। हाल ही में भारतीय आईटी कंपनी विप्रो ने ऐसे 300 कर्मचारियों को अपनी कंपनी से निकाल दिया। ये 300 लोग कंपनी के प्रतिस्पर्धियों के लिए भी काम कर रहे थे। ऐसा करना कंपनियों की बौद्धिक सम्पदा और परिसंपत्तियों के गतल इस्तेमाल की ओर इशारा करता है।

स्वदेश दर्शन योजना

केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय की स्वदेश दर्शन योजना के तहत रामायण सर्किट, डेजर्ट सर्किट, तटीय सर्किट और बौद्ध सर्किट सहित देश के कुल 15 पर्यटन सर्किटों की पहचान की गई थी। आम्बेडकर सर्किट को कवर करने के लिए एक विशेष पर्यटन रेल की घोषणा केंद्रीय पर्यटन और संस्कृति मंत्री जी. किशन रेड्डी द्वारा की गई है। यह रेल आम्बेडकर के जीवन से जुड़े महत्वपूर्ण स्थलों का भ्रमण कराएगी। इसमें महू, नागपुर, दिल्ली और मुम्बई शामिल हैं।

Leave a Comment

चैट खोलें
1
मदद चाहिए ?
Scan the code
हम आपकी किस प्रकार सहायता कर सकते हैं ?