डेली करेंट अफेयर्स 29 अक्टूबर 2022 | Daily Current Affairs in Hindi

वायु परिवहन समिति की अध्यक्ष बनी शेफाली जुनेजा, क्या है समृद्धि (SAMRIDDHI) योजना ? COP27 : जलवायु पर UN की बैठक का आयोजन मिश्र में, सरसों की जीएम किस्म को मंजूरी…

डॉ. शेफाली जुनेजा

डॉ. शेफाली जुनेजा को अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन की वायु परिवहन समिति का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। भारत को 28 साल बाद इसकी अध्यक्षता मिली है। भारत इससे पहले दो बार इसकी अध्यक्षता कर चुका है। वायु परिवहन समिति संयुक्त राष्ट्र की एक विशेष एजेंसी और हवाई परिवहन मामलों पर परिषद का एक विशेष सलाहकार निकाय है।


सुगम ज्ञान मासिक क्विज

रजिस्ट्रेशन शुल्क मात्र ₹49/- ₹29/- है। जिसमें आपको पूरे महीने की करंट अफेयर्स पीडीएफ (ई-बुक) मिलेगी और अपनी तैयारी को जाँचने के साथ-साथ नकद इनाम जीतने का मौका मिलेगा। पहला, दूसरा व तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को क्रमशः ₹300, ₹200 व ₹100 का नकद इनाम दिया जाएगा।


समृद्धि (SAMRIDDHI) –

दिल्ली ने एकमुश्त संपत्ति कर माफी योजना समृद्धि (SAMRIDDHI) शुरु की है। इसकी घोषणा दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना द्वारा की गई है।

COP27 : जलवायु पर UN की बैठक –

COP27 : जलवायु पर संयुक्त राष्ट्र की 27वीं बैठक की मेजबानी इस बार मिश्र द्वारा की जाएगी। इसका आयोजन 6 से 18 नवंबर 2022 के बीच मिश्र के शर्म-अल-शेख में किया जाएगा। यह किसी अफ्रीकी देश में COP27 की बैठक का पांचवां आयोजन है। यह बैठक तीन मुख्य क्षेत्रों पर केंद्रित है – उत्सर्जन को कम करना, देशों को जलवायु परिवर्तन से निपटना और तकनीकी सहायता प्राप्त करना, और जलवायु गतिविधियों के लिए विकासशील देशों के लिए धन प्राप्त करने में मदद करना।

धरा सरसों हाइब्रिड – 11

Genetic Engineering Appraisal Committee ने हाल ही में व्यावसायिक खेती के लिए सरसों के आनुवांशिक रूप से संशोधित (Genetic Modified) रूप को मंजूरी प्रदान की है। इसे दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर जेनेटिक मैनिपुलेशन ऑफ क्रॉप प्लांट्स द्वारा विकसित किया गया है। दरअसल भारत खाद्य तेलों का विश्व का सबसे बड़ा आयातक देश है। जिसके चलते हर साल इस पर अरबों डॉलर की धनराशि विदेश चली जाती है। देश में खाद्य तेल की मांग का 70 प्रतिशत हिस्सा रूस, मलेशिया, इंडोनेशिया, अर्जेंटीना, ब्राजील से आयात किया जाता है। हालांकि कुछ लोग प्रयोगशाला में परिवर्तित फसलों का विरोध भी कर कर हैं। क्योंकि जीन संशोधित फसलें खाद्य सुरक्षा और जैव विविधता से समझौता कर सकती हैं। ये फसल भविष्य में स्वास्थ्य के लिए खतरा पैदा कर सकती हैं।

Leave a Comment

चैट खोलें
1
मदद चाहिए ?
Scan the code
हम आपकी किस प्रकार सहायता कर सकते हैं ?